अनूठी पहल:वार्ड में मरीजों को सुनाएंगे भजन-कीर्तन

टोंक20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
देवली |वार्ड में लगा स्पीकर व स्टूमेंट। - Dainik Bhaskar
देवली |वार्ड में लगा स्पीकर व स्टूमेंट।
  • वार्डों में मरीजों को मानसिक शांति, आत्मविश्वास, सुकून के लिए नई व्यवस्था शुरू

स्थानीय राजकीय अस्पताल में रोगियों में मानसिक शांति, सुकून और आत्मविश्वास के लिए अस्पताल प्रबंधन ने अनूठी पहल की है। अस्पताल में भजन, भगवत गीत शुरू किए है। इसके लिए अस्पताल के हर वार्ड में स्पीकर लगाए है। ये स्पीकर पेनड्राइव के माध्यम से चलेंगे। स्पीकर के माध्यम से रोजाना सुबह शाम दो - दो घंटा रोगियों को धार्मिक भजन और भगवत गीत सुनाए जा रहे है। इसके पीछे अस्पताल प्रभारी डॉक्टर राजकुमार का मानना है कि इससे रोगियों को घर जैसा आध्यात्मिक माहौल मिलेगा। जिससे उनकी मनो स्थिति ठीक रहेगी। उनमें नई ऊर्जा का संचार होगा।जानकारी के अनुसार दो साल से कोरोना का रुक रुक कर असर बना हुआ है। इससे जिले में भी कई लोगों की मौत हो गई थी। उस समय लोगों में दहशत का सा माहौल बन गया था। जिला अस्पताल में 24 घंटे में छह से सात लोगों की मौत तक हुई थी।

इससे मरीजों को अस्पताल ले जाते ही अलग ही तरह का माहौल बन गया था। लोग अस्पताल में भर्ती होने से ही कतराने लगे थे। समय के साथ कोरोना का असर कम हुआ और चार माह से जिले में कोरोना के मरीज नहीं है, लेकिन अभी भी कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है तो अस्पताल में जाते ही उसके मन में कोरोना में हुई मौतों की भयानक स्थिति याद आ जाती है। उससे उसके मन में बीमारी से लड़ने के लिए आत्मविश्वास की दिखाई पड़ती हैं। मन में डर सा माहौल है। इस डर के माहौल को दूर करने और में के लिए देवली के सरकारी अस्पताल प्रभारी डॉक्टर राजकुमार गुप्ता ने दीपावली से अनूठी पहल की है। इससे अस्पताल में मरीजों को घर जैसा माहौल का आभास हो रहा है।

घर जैसा माहौल दिलाएंगे अस्पताल प्रभारी डॉ राजकुमार गुप्ता ने बताया कि देवली अस्पताल में तीन वार्ड हैं। हर वार्ड में एक- एक स्पीकर लगाए है। इन्हे पेनड्राइव के माध्यम से संचालित किए जा रहे हैं। सुबह शाम दो - दो घंटा धार्मिक भजन, भगवत गीत आदि सुनाए जा रहे है। इससे मरीजों का बीमारी से लड़ने के लिए आत्मविश्वास जगेगा, मनोस्थिति सही रहेगी। मन को शांति मिलेगी। इसका समय सुबह 6 से 8 बजे तक और शाम को 6 से रात 8 बजे तक जा है। इसके अलावा कुछ इंस्टूमेंट में लगाए हैं जिनमें धार्मिक धुने बजती रहती है।

खबरें और भी हैं...