गणतंत्र दिवस पर बड़ी लापरवाही, राष्ट्रीय ध्वज गायब:सुबह सम्मान के साथ SDM ने फहराया था राष्ट्रीय ध्वज, शाम को गायब

टोंक8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टोड़ा रायसिंह कस्बे के सीनियर सेकेंडरी स्कूल का खेल मैदान जहां से राष्ट्रीय ध्वज गायब हो गया। - Dainik Bhaskar
टोड़ा रायसिंह कस्बे के सीनियर सेकेंडरी स्कूल का खेल मैदान जहां से राष्ट्रीय ध्वज गायब हो गया।

टोडारायसिंह उपखंड मुख्यालय पर 73वें गणतंत्र दिवस पर हुए मुख्य समारोह को लेकर बड़ी लापरवाही सामने आई है। वहां के सीनियर सेकेंडरी स्कूल के खेल मैदान में लगे राष्ट्रीय ध्वज को पाइप समेत अज्ञात जने ले गए। शाम को इसकी सूचना स्कूल प्रशासन को लगी तो हड़कंप मच गया। फिर आनन फानन में गुप चुप तरीके से इसकी तलाश शुरू की गई। बाद में राष्ट्रीय ध्वज बच्चों के पास मिल गया, लेकिन जिस तरह से राष्ट्रीय ध्वज का अपमान हुआ है, उससे लगता है कि जिम्मेदार कर्मचारी लापरवाह हैं।

26 जनवरी को सुबह करीब 9 बजे टोडारायसिंह में उपखंड मुख्यालय पर 73वां गणतंत्र दिवस समारोह सीनियर सेकेंडरी स्कूल में धूमधाम से मनाया गया। समारोह खत्म होने के बाद सब घर चले गए। शाम करीब 5 बजे लोगों को पता लगा कि अज्ञात लोग राष्ट्रीय ध्वज को पाइप सहित उखाड़ कर ले गए। इसकी सूचना मिलने के बाद स्कूल प्रशासन और उपखंड प्रशासन में हड़कंप मच गया। कई जिम्मेदार अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल की गई। इसमें सामने आया कि कुछ शरारती बच्चे राष्ट्रीय ध्वज को ले गए हैं। फिर बड़ी मुश्किल से अज्ञात बच्चों से राष्ट्रीय ध्वज और पाइप बरामद किया गया।

सूर्यास्त से पहले उतारा जाता है ध्वज
राष्ट्रीय ध्वज को फराहने के बाद शाम को सूर्य अस्त होने से पहले उसे सम्मान से उतारा जाता है, लेकिन टोडारायसिंह उपखंड मुख्यालय पर राष्ट्रीय ध्वज की सुरक्षा में लगे कर्मचारी की लापरवाही के कारण राष्ट्रीय ध्वज को पाइप सहित अज्ञात बच्चे उखाड़ कर ले गए।

बच्चों ने उतार दिया
एसडीएम रूबी अंसार ने बताया कि शाम को करीब 5 बजे पता लगा कि राष्ट्रीय ध्वज पाइप समेत गायब है। फिर पता करवाया तो सामने आया है कि दोपहर को खेल मैदान में बच्चे खेलते समय राष्ट्रीय ध्वज का पाइप टूट गया। इससे राष्ट्रीय ध्वज नीचे आ गया। फिर उसे डरकर एक और रख दिया। बाद में उसे स्कूल के प्रिंसिपल को सौंप दिया।