कांग्रेस ने 1971 युद्ध के वीर योद्धाओं को किया सम्मानित:50वीं विजय दिवस वर्षगांठ के तहत जैसलमेर के 25 गौरव सेनानी सम्मानित

जैसलमेर10 दिन पहले
जैसलमेर। 1971 युद्ध की 50 वीं विजय दिवस वर्षगांठ के कार्यक्रम में मौजूद अतिथि।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से 1971 युद्ध की 50वीं विजय दिवस वर्षगांठ का आयोजन कांग्रेस कमेटी कार्यालय में किया गया। इस मौके पर जिला कांग्रेस कमेटी जैसलमेर ने शनिवार को गौरव सेनानी सम्मान समारोह का आयोजन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से इस युद्ध की 50वीं वर्षगांठ के राष्ट्रीय समन्वयक कैप्टन प्रवीण डावर मौजूद रहे।

इस अवसर पर जैसलमेर जिले के 25 गौरव सेनानियों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर गौरव सेनानियों के सम्मान में सभी ने खड़े होकर 2 मिनट तक तालिया भी बजाईं। कार्यक्रम में कैप्टन प्रवीण डावर ने कहा, भारत ने 1971 का युद्ध जीतकर इतिहास रचा। उन युद्ध वीरों ने जो अपने अदम्य शौर्य और साहस का परिचय दिया उससे पाकिस्तान को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। ऐसे गौरव सेनानियों का सम्मान करना हमारे लिए गौरवशाली क्षण है।

कार्यक्रम में मौजूद गौरव सेनानी।
कार्यक्रम में मौजूद गौरव सेनानी।

25 गौरव सेनानियों का हुआ सम्मान

इस अवसर पर जैसलमेर जिले के 25 गौरव सेनानियों को सम्मानित किया गया, जिनमें युद्ध में घायल हुए और जिन्होंने भारत-पाक 1971 का युद्ध लड़ा वो सब शामिल रहे। समारोह की अध्यक्षता जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष उम्मेद सिंह तंवर ने की। उम्मेद सिंह तंवर ने इस मौके पर कहा कि भारत के वीर योद्धा हर चुनौती का मुकाबला करने के लिए सक्षम हैं और युद्ध में भारत के सैनिक अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। जैसलमेर के वीर गौरव सेनानियों ने 1971 युद्ध में अपने प्राणों की चिंता किए बिना जो युद्ध लड़ा वह इतिहास में लिखा गया है। उन्होंने कहा, जिला कांग्रेस कमेटी ऐसे गौरव सेनानियों को सम्मानित कर अपने आप को धन्य महसूस कर रही है। समारोह में जैसलमेर के विधायक रूपाराम धनदेव, उप जिला प्रमुख बीके बारूपाल, राज्य महिला आयोग की सदस्य अंजना मेघवाल, पूर्व सैनिक संगठन संस्था के अध्यक्ष कैप्टन सगत सिंह देऊंगा, एक्स सर्विसमैन एसोसिएशन के अध्यक्ष कर्नल अचलाराम पंवार, पूर्व प्रधान मूलाराम चौधरी, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष सुमार खां, छोटू खान कंधारी व राणजी चौधरी मौजूद रहे।