शोभायात्रा:छत्रपति वीर आलाजी की 472वीं जयंती धूमधाम से मनाई, निकली शोभायात्रा

जैसलमेर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्रपति वीर आलाजी जुंझार की 472वीं जयंती शीशगंज अालाजी मंदिर में समारोह पूर्वक धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम का शुभारंभ सूरज प्रोल स्थित आलाजी के भूंगरे घोड़े के पैरों की पूजा अर्चना कर किया गया। इस अवसर पर सूरज प्रोल से शीशगंज आलाजी मंदिर तक शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा सूरज प्रोल से गोपा चौक, सदर बाजार, गांधी चौक व हनुमान चौराहे होते हुए शीशगंज मंदिर पहुंची। रास्ते भर में लोगों द्वारा पुष्प वर्षा कर शोभायात्रा का स्वागत किया गया। शोभायात्रा के शीशगंज आलाजी मंदिर पहुंचने पर समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में ख्याला मठ के मठाधीश गोरखनाथ महाराज उपस्थित रहे। वहीं अध्यक्षता योगिनी धनियानाथ द्वारा की गई। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रुप में पूर्व विधायक छोटूसिंह भाटी, सुनिता भाटी, चुरताराम प्रजापत, तारेंद्रसिंह, चौथमल प्रजापत, छोटूसिंह बीदा व दुर्गसिंह राव उपस्थित रहे। कार्यक्रम में बालक सालमसिंह बिराजनगर द्वारा आलाजी की वीर रस में छंद प्रस्तुत किया गया। आलाजी के जीवन परिचय सुजानसिंह सलखा द्वारा प्रस्तुत किया गया। वीरमसिंह द्वारा काव्य छंद प्रस्तुत किए गए तथा प्रतापराम द्वारा आलाजी के छंद प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर गुरु गोरखनाथ द्वारा भक्तों को आशीर्वाद प्रदान कर धर्म एवं संस्कृति को अक्षुण्य बनाए रखने का आह्वान किया गया। इस अवसर पर योगिनी धनियानाथ, सुनीता भाटी, तारेंद्रसिंह, चुतराराम, पूनमसिंह, रामसिंह बीदा व प्रायगाराम द्वारा संबोधित किया गया। कार्यक्रम के अंत में केसरीसिंह जंज द्वारा सभी श्रद्धालुओं को धन्यवाद ज्ञापित किया गया। मंदिर कमेटी की तरफ से तनसिंह हाबूर द्वारा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। मंच संचालन गोपालसिंह लोद्रवा द्वारा किया गया। जयंती समारोह में रामसिंह बीदा, फतेश प्रजापत, रतनसिंह, धनसिंह, नीरज प्रजापत, सज्जनसिंह, दीपक, योगेंद्र प्रजापत, गुड्डू प्रजापत व प्रेम प्रजापत सहित कई श्रद्धालु उपस्थित रहे।