हिन्दू संगठनों का जैसलमेर बंद आज:निकालेंगे मौन जुलूस, कलेक्टर को राष्ट्रपति के नाम देंगे ज्ञापन

जैसलमेर2 महीने पहले
जैसलमेर। जैसलमेर शहर में धारा 144 की पालना करवाने के लिए जिला प्रशासन का मार्च पास्ट। - Dainik Bhaskar
जैसलमेर। जैसलमेर शहर में धारा 144 की पालना करवाने के लिए जिला प्रशासन का मार्च पास्ट।

उदयपुर की घटना को देखते हुए हिन्दू संगठनों के जैसलमेर बंद के आह्वान से जिला प्रशासन अलर्ट हो गया। जैसलमेर कलेक्टर डॉ प्रतिभा सिंह और एसपी भंवर सिंह नाथावत ने शहर में मार्च पास्ट किया। पुलिस थाना कोतवाली से शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने और जैसलमेर में धारा 144 की पालना करवाने के लिए पुलिस द्वारा मार्च पास्ट किया गया। शहर के मुख्य मार्गों से निकले मार्च पास्ट में कलेक्टर एसपी समेत कई अधिकारी व भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। इस दौरान कलेक्टर डॉ प्रतिभा सिंह और एसपी भंवर सिंह नाथावत ने शहर वासियों के साथ ही जिले वासियों को संदेश दिया कि वे साम्प्रदायिक सौहार्द बनाए रखे तथा पूरी तरह से शांति रखते हुए प्रेम एवं भाईचारे के साथ रहे। उन्होंने लोगों को धारा 144 की पालना करने के निर्देश दिए।

धारा 144 का उल्लंघन करने पर होगी सख्त कार्रवाई

कलेक्टर एसपी दोनों ने मार्च पास्ट के दौरान ये संदेश दिया कि पुलिस प्रशासन शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए हर तरह से मुस्तैद है, इसलिए कोई भी व्यक्ति अवांछनीय और अप्रिय घटना नहीं करे। उन्होंने ये भी संदेश दिया कि कोई भी व्यक्ति साम्प्रदायिक सौहार्द के वातावरण को खराब करने के लिए अप्रिय घटना करता है या उसकी सूचना मिलती है तो तत्काल ही जिला एवं पुलिस प्रशासन को सूचना दे ताकि समय रहते उस पर कार्रवाई को जा सके। उन्होंने साफ तौर से कहा कि पुलिस प्रशासन धारा 144 की पालना के लिए सख्त है, अगर किसी ने भी इसका उल्लंघन किया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई कि जाएगी।

हिन्दू संगठनों द्वारा गुरुवार को जैसलमेर बंद का आह्वान

दरअसल हिन्दू संगठनों द्वारा गुरुवार को जैसलमेर बंद रखने तथा उदयपुर हत्याकांड के विरोध में मौन जुलूस निकालने का आह्वान किया गया है। हिन्दू संगठनों के आह्वान पर पुलिस प्रशासन हरकत में आया तथा शाम को ही पूरे शहर में पुलिस जाब्ते के साथ मार्च पास्ट करके सबको धारा 144 की पालना करने का सख्त संदेश दिया।