नहरबंदी में सैकड़ों मछलियों की जान गई:नहर के सूखने से बिना पानी मछलियों ने तोड़ा दम, पानी दूषित होने की आशंका

जैसलमेर7 महीने पहले
जैसलमेर। इन्दिरा गांधी नहर में नहरबंदी के चलते मछलियों की मौत।

जैसलमेर में इंदिरा गांधी नहर बंदी के कारण सैकड़ों मछलियां मर गईं। नहर बंदी के कारण पानी सूख गया जिससे नहर में मौजूद सैकड़ों मछलियों की जान चली गई। नहरी इलाके के घंटियाली से एक ग्रामीण ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि लंबे समय से नहरबंदी के कारण पानी की आवक नहर में नहीं हुई। इंदिरा गांधी नहर में पानी नहीं आने से धीरे धीरे नहर सूखने लगी। नहर के सूखने से नहर में पल रही हजारों मछलियों के जीवन पर संकट आ गया है।

नहर में जगह मछलियों के शव मिल रहे
नहर में जगह मछलियों के शव मिल रहे

ग्रामीणों ने बताया कि घंटियाली इलाके के पास नहर में सैकड़ों की संख्या में तड़पती और मरी हुई मछलिया मिली है। ग्रामीणों का कहना है कि मरी हुई मछलियों की वजह से आसपास के इलाके में तेज दुर्गंध आ रही है। उन्होंने बताया कि अब अगर नहर में पानी आया तो ये मरी हुई मछलियों की वजह से कहीं पानी दूषित न हो जाए। ग्रामीणों ने मांग की कि नहरी विभाग को पहले नहर की सफाई करवानी चाहिए और इसके बाद ही पानी की आवक होनी चाहिए।

पानी के दूषित होने की आशंका

घंटियाली इलाके के ग्रामीणों ने बताया कि इन दिनों नहर के सूखने से काफी संख्या में मछलियों की मौत हो रही है। और कई जगह मछलियों के शव मिल रहे हैं। नहर में पानी नहीं होने से इन जीवों के जीवन पर संकट आ गया है। नहर विभाग को जल्द से जल्द पानी शुरू करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जगह जगह मिल रहे मछलियों के शवों के कारण अब नहर दूषित हो रही है। ऐसे में नहर में अगर पानी छोड़ा जाता है तो पानी के दूषित होने की पूरी आशंका है।