पक्षियों से फसल को बचाने में गंवाए दोनों हाथ:पोटेशियम कूटते समय हुए धमाके से गंभीर घायल हुआ किसान हीरदान

जैसलमेर7 दिन पहले
जैसलमेर। गंभीर हालत में जवाहिर अस्पताल में किसान हीरदान।

जैसलमेर में खेतों में खड़ी फसल को पशु पक्षियों से बचाने के चक्कर में एक किसान ने अपने दोनों हाथ गंवा दिए। पोटेशियम से धमाका कर पशु पक्षियों को भगाने के चक्कर में पोटेशियम कूटते समय हुए जोरदार धमाके में भू गांव के हीरदान (60) गंभीर रूप से घायल हो गए। परिजन तुरंत लेकर जवाहिर हॉस्पिटल आए जहां प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टरों ने हीरदान को गंभीर हालत में जोधपुर रेफर कर दिया। पोटेशियम कूटते समय तेज धमाके से हुए विस्फोट से हीरदान के दोनों हाथ तो उड़े ही साथ ही उसकी दोनों आंखों को भी नुकसान पहुंचा है।

मौके पर मिला धमाका करने का औज़ार और धमाके में बिखरा कूटने वाला
मौके पर मिला धमाका करने का औज़ार और धमाके में बिखरा कूटने वाला

पशु पक्षियों को भगाने के लिए पोटेशियम से करते हैं धमाका

सदर थानाधिकारी देव किशन ने बताया कि भू गांव निवासी हीरदान के खेतों में बाजरे की फसल खड़ी है। वो फसल को पशु और पक्षियों से बचाने के लिए पोटेशियम का इस्तेमाल करता था। रविवार सुबह वो पोटेशियम कूट रहा था। उसी दौरान तेज धमाके से पोटेशियम फट गया। हादसे में उसके दोनों हाथों और आंखों को चोट पहुंची है। उसे गंभीर हालत में जोधपुर के लिए रेफर कर दिया है। उन्होंने बताया कि हीरदान पोटेशियम को एक पाइप में भरकर फिर पीछे से प्रेशर देकर बंदूक की तरह दागता है, जिससे तेज धमाका होता है जैसा दीवाली के बम में होता है। तेज धमाका होने से पशु या पक्षी भाग जाते हैं जिससे फसल का बचाव होता है। रविवार को पोटेशियम कूटते समय वो वहीं फट गया जिससे ये हादसा हुआ।

गंभीर हालत में में किसान हीरदान को जोधपुर रेफर करते हुए
गंभीर हालत में में किसान हीरदान को जोधपुर रेफर करते हुए
खबरें और भी हैं...