सिंगल फेज कनेक्शन:सोजिया की ढाणी में एक माह से सिर्फ 3 घंटे बिजली सप्लाई

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम पंचायत चांधन के अंतर्गत आने वाली सोजिया की ढाणी में पिछले एक माह से बिजली की सप्लाई सिर्फ 3 घंटे हो रही है। ग्रामीणों ने बताया कि यह ढाणी सिंगल फेज कनेक्शन की लाइन से जुड़ी हुई है। ग्रामीणों ने बताया कि डिस्कॉम से बिजली देने के बारे में पूछने पर कहते है कि सिंगल फेस लाइट में कुछ किसान शक्ति मोटर के माध्यम से बिजली की चोरी करके ट्यूबवैल चलाते है। इस समस्या के निदान के बजाय स्थानीय डिस्कॉम ने ढाणी की बिजली काट कर अपने कर्तव्यों से इतिश्री कर ली। स्थानीय निवासी लालदीन ने बताया कि हम मोबाइल चार्ज करने के लिए भी 7 किमी दूर चांधन जाना पड़ रहा है। साथ दैनिक दिनचर्या के कार्य प्रभावित हो रहे है। दिसंबर माह के पहले पखवाड़े में बच्चों की अर्द्ध वार्षिक परीक्षा है। ऐसे में बिजली सप्लाई के यहीं हालात रहे तो बच्चों की पढ़ाई पर भी बुरा असर पड़ेगा। विद्यार्थी कासम ने बताया कि अर्द्धवार्षिक परीक्षा नजदीक है। मजबूरी में लालटेन की रोशनी में पढ़ रहे है। शाम 4 बजे तक तो स्कूल में रहते है। उसके बाद घर आकर शाम को पढ़ाई करनी होती है। लेकिन बिजली नियमित नहीं रहने से शाम के बाद पढ़ाई नहीं हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि डिस्कॉम के अधिकारी तकनीकी खामी या बिजली चोरी का कहकर बिजली कटौती कर रहे है। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले दिनों केबिनेट मंत्री सालेह मोहम्मद ने सामाजिक कार्यक्रम में शिरकत की। उस दिन डिस्कॉम के अधिकारियों ने अपना बचाव करते हुए बिजली सप्लाई पूरे दिन दे दी। लेकिन महीने भर बिजली सप्लाई देर रात को सिर्फ 3 घंटे दी जा रही है।

^ढाणी में घरेलू बिजली की समस्याएं खत्म नहीं हो रही है। सिंगल फेस लाइन से भी 3 घंटे बिजली दी जा रही है। वो भी रात में कब बिजली आए इसका पता ही नहीं चलता। डिस्कॉम के अधिकारियों से मांग है कि बिजली सप्लाई सुचारु करें। दिलबर खान, सोजिया की ढाणी ^सिंगल फेज में इन ढाणियों में 2 से 4 एम्पियर लोड आना चाहिए। लेकिन अभी 40 से 50 एम्पियर लोड आता है। जिससे 132 केवी फीडर पर लोड बढ़ जाता है। गांव में हम सिंगल फेज पूरा दे रहे है। कृषि से जुड़े गांवों में यह समस्या आ रही है। बुआई पूर्ण होती ही लोड कवर हो जाएगा। जिससे इन गांवों की समस्याओं का समाधान हो जाएगा। राजकुमार शर्मा, सहायक अभियंता, डिस्कॉम

खबरें और भी हैं...