गफूर भट्टा में 45 लाख के द्वार से होगा स्वागत:जैसलमेर नगर परिषद बना रही पीले पत्थरों से भव्य स्वागत द्वार, मलका प्रोल का निखरेगा रंग

जैसलमेरएक महीने पहले
जैसलमेर। 45 लाख की लागत से तैयार हो रहा कच्ची बस्ती का गेट।

जैसलमेर की कच्ची बस्ती गफूर भट्टा के लिए नगरपरिषद एक स्वागत द्वार का निर्माण करवा रही है। कच्ची बस्ती की एंट्रेंस पर पुरानी हो चुके प्रोल (गेट) के पास 45 लाख के पीले पत्थरों से नए गेट बनाने का काम शुरू हो चुका है। अब बहुत जल्द इस कच्ची बस्ती के बाशिंदों को शानदार पीले पत्थरों का भव्य गेट मिलेगा। मलका प्रोल के पास ही इस गेट को बनाने का काम शुरू हो चुका है। जैसलमेर के कारीगर इसको जैसलमेर की शैली में अद्भुत कारीगरी के साथ बनाने का काम कर रहे हैं।

मलका प्रोल के पास ही बन रहा नया स्वागत द्वार
मलका प्रोल के पास ही बन रहा नया स्वागत द्वार
पीले पत्थरों को तैयार करते कारीगर
पीले पत्थरों को तैयार करते कारीगर

जैसलमेर की शैली का बनेगा गेट

नगरपरिषद आयुक्त शशिकांत शर्मा ने बताया कि नगरपरिषद जैसलमेर शहर को साफ और सुंदर बनाने में लगातार प्रयास कर रही है। इसके लिए शहर में कई विकास कार्य स्वीकृत कर तेज गति से पूरे करवाए जा रहे हैं। इस कड़ी में जैसलमेर शहर के कलाकार कॉलोनी मलका प्रोल के पास तथा कच्ची बस्ती गफूर भट्टा के एंट्रेंस पर नगरपरिषद द्वारा लगभग 45 लाख की लागत से जैसलमेरी शैली में नई प्रोल बनाने का काम किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि अमर सागर गेट की तरह ही बन रहे इस शानदार गेट से जैसलमेर के निवासियों के साथ साथ बाहर से आने वाले सैलानियों को भी एक अच्छा नजारा देखने को मिलेगा। उन्होंने बताया कि मलका प्रोल जैसलमेर की प्राचीन इमारत है, और इसमें लोगों का आवागमन काफी कठिन हो गया था। शहर को सुंदर बनाने के लिए इस जगह ऐसा ही एक नया गेट बनाने का काम शुरू किया गया ताकि लोगों को एक अलग ही एहसास हो। इसको जैसलमेर के ही पीले पत्थरों से बनाया जा रहा है और ये एक शानदार गेट बनेगा।