पालना गृह में मिले प्री-मैच्योर बच्चे की मौत:सांस में तकलीफ होने पर जोधपुर रैफर किया, इलाज के दौरान तोड़ा दम

जैसलमेर24 दिन पहले
जैसलमेर के जवाहिर हॉस्पिटल के पालना गृह में मिला नवजात।

जैसलमेर के जवाहिर हॉस्पिटल में बने पालना गृह में मिले प्री-मैच्योर नवजात बच्चे की जोधपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। बच्चे को सांस में तकलीफ थी। बच्चे को शुक्रवार रात कोई पालना गृह में छोड़ गया था। हॉस्पिटल स्टाफ और बाल कल्याण समिति की टीम ने बच्चे की देखभाल की थी।

बच्चा करीब 7 महीने का ही था। डॉक्टरों ने उसे ICU में रखा था लेकिन उसकी तबीयत में सुधार नहीं हो रहा था। हालत गंभीर होने पर शनिवार को जोधपुर के उम्मेद अस्पताल में रेफर किया गया था। इसके बाद भी बच्चे की हालत में सुधार नहीं हुआ। बच्चे की रविवार देर रात 3 बजे इलाज के दौरान मौत हो गई।

गौरतलब है कि जवाहिर हॉस्पिटल के पालना गृह में शुक्रवार रात करीब 11 बजे कोई एक मासूम नवजात को छोड़ गया। सारण बजने पर हॉस्पिटल के स्टाफ ने बच्चे को पालना गृह से निकालकर डॉक्टरों को सौंपा। बच्चा प्री मैच्योर था तथा उसको सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। बालक का अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा गहन चिकित्सा इकाई में विशेष देखरेख की गई। इस दौरान बाल कल्याण समिति की टीम ने अस्पताल पहुंच कर बच्चे को गंभीर हालात में जोधपुर रेफर किया। लेकिन इलाज के दौरान मासूम बच्चे की मौत हो गई।

पालना गृह में छोड़ा 7 महीने का बच्चा:सायरन बजने पर हॉस्पिटल स्टाफ ने उठाया, ICU में भर्ती

खबरें और भी हैं...