सावलगिरी जी महाराज की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हुई संपन्न:साधु संतों का ग्रामीणों ने किया स्वागत, भजन संध्या का हुआ आयोजन

भीनमाल8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

समीपवर्ती कोमता गांव के दूधेश्वर महादेव मठ में रविवार को नव निर्मित सावलगिरी जी महाराज मंदिर एवं मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव वैदिक मंत्रोच्चार के साथ मंदिर शिखर पर कलश एवं अमर ध्वजा स्थापित करने के साथ संपन्न हुआ। प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर कोमता सहित आसपास के गांवों से सवेरे से ही श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था।

पुनासा महंत बाबू गिरी जी महाराज, उम्मेद गिरी जी महाराज, वालेरा महंत पारस भारती महाराज सहित दर्जनों साधु संतो के सानिध्यता में निश्चित मुहूर्त में जैसे ही मंदिर शिखर पर मंदिर परिसर जयकारों से गूंज उठा।

संतो का किया बहुमान
पूर्णाहुति के दिन प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के तहत कोमता सहित आसपास के गांवों से पहुंचे साधु संतो का ग्रामीणों की उपस्थिति में बहुमान किया गया। इस दौरान महोत्सव में पहुंचे क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों एवं अतिथियों का भी सम्मान किया गया। इसके पश्चात महा प्रसादी का आयोजन हुआ। जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने शिरकत की।

रात्रि में हुआ भजन संध्या का आयोजन

रात्रि को मंदिर परिसर में मनोज रिया एंड पार्टी दिल्ली द्वारा एक से बढ़कर एक मधुर भजनों की प्रस्तुति दी गई। जिसमें देर रात तक श्रद्धालुओं ने मधुर भजनों का आनंद लिया।

खबरें और भी हैं...