पुलिसकर्मी ने प्रसूता के लिए किया रक्तदान:महिला में हिमोग्लोबिन था 4 प्वाइंट, ब्लड ग्रुप भी रेयर था

जालोर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जालोर पुलिसलाइन के एक पुलिसकर्मी ने रक्तदान कर एक गर्भवती मरीज की जान बचाई। जालोर क्षेत्र एफसीआई गोदाम निवासी कांतिलाल मेघवाल ने अपनी पत्नी विमला देवी की डिलीवरी को लेकर उसे जिला सरकारी अस्पताल में एडमिट करवाया था। डॉक्टर ने जांच की तो महिला का हिमोग्लोबिन सिर्फ 4 था। डॉक्टर ने तुरंत मरीज के लिए रेयर ब्लड ग्रुप बी- नेगेटिव 4 यूनिट का इंतजाम करने को कहा। ये भी कहा कि ब्लड का इंतजाम नहीं हुआ तो मरीज को रेफर करने की नौबत आ जाएगी।

अटेंडर तुरंत डिमांड नोट व ब्लड सैम्पल लेकर जालोर सरकारी के ब्लड बैंक पहुंचा। लेकिन वहां ब्लड नहीं मिला। परिवार में किसी का सहयोग न मिलने से कांतिलाल मजबूर हो गया। तभी ब्लड बैंक ड्यूटी अधिकारी चिरंजीव व्यास ने उन्हें जालोर ब्लड डोनर ग्रुप के संरक्षक नितेश भटनागर के नम्बर दिए। भटनागर ने अपने डोनर्स को फ़ोन लगाना शुरू किया और जालोर एस. पी.ऑफिस में कार्यरत कनिष्ठ सहायक प्रेमसिंह पुत्र सोहन सिंह को फ़ोन किया।

प्रेम सिंह ने सोमवार रात 9 बजे जालोर सरकारी ब्लड बैंक आकर रक्तदान किया। प्रेम सिंह ने 2 यूनिट ब्लड की व्यवस्था करवाई। प्रेम के अलावा देवेंद्र गहलोत पुत्र अशोक गहलोत जालोर एवं वेलाराम पुत्र मिठाराम बिछावाड़ी ने भी रक्तदान किया।