पत्नी के जाने का अवसाद:पत्नी पीहर गई तो पति ने लगाई फांसी, पिता ने कहा सास-ससुर जबरदस्ती ले गए

झालरापाटन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झालरापाटन के यादव मोहल्ले में शनिवार दोपहर 32 वर्षीय युवक ने आत्महत्या कर ली। युवक रलायती गांव का रहने वाला था और झालरापाटन में मजदूरी का काम करता था। आत्महत्या के समय घर में कोई नहीं था।

पड़ोसियों को पता लगने पर उन्होंने युवक को फंदे से उतारकर झालावाड़ जिला अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना मिलने के बाद झालरापाटन पुलिस झालावाड़ अस्पताल पहुंची और युवक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

पत्नी के जाने का अवसाद

युवक के पिता करण सिंह ने पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट में बताया कि उनके पुत्र बजरंग का विवाह गरणावद गांव में हुआ था। उसके एक लड़का और एक लड़की भी है। करीब 8 -10 दिन पहले उसके सास-ससुर गरणावद गांव से झालरापाटन आए थे और अपनी बेटी और उसके बच्चों को अपने साथ ले गए। बजरंग अपनी पत्नी व बच्चों को गरणावद भेजने के पक्ष में नहीं था, लेकिन उसके सास ससुर उन्हें जबरदस्ती ले गए। पत्नी के पीहर चले जाने के बाद से ही वह अवसाद में था। उसी कारण उसने आत्महत्या जैसा कदम उठाया।

झालरापाटन पुलिस ने मृतक बजरंग के पिता करण सिंह से लिखित में रिपोर्ट ली है और अनुसंधान शुरू कर दिया है।

खबरें और भी हैं...