रिश्वत का मामला:प्रवर्तन अधिकारी और सूचना सहायक की सक्षम अधिकारी से मिली अभियोजन स्वीकृति

झालावाड़21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसीबी ने भी दोनों के खिलाफ कोर्ट में किया चालान पेश

झालावाड़ एसीबी टीम ने दो साल पहले रसद विभाग के प्रवर्तन अधिकारी व सूचना सहायक को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था। इस मामले में दोनों आरोपियों के संबंधित विभाग के सक्षम प्राधिकारी ने अभियोजन स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसके बाद एसीबी ने भी दोनों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश कर दिया है।

अभियोजन स्वीकृति व जांच में समय लगने से चालान पेश करने में दो साल लग गए। जांच अधिकारी कोटा ग्रामीण एसीबी एएसपी प्रेरणा शेखावत ने बताया कि ईओ प्रशात यादव और रविंद्र बैरवा के ट्रेप मामले की जांच पूरी होने के बाद दोनों आरोपियों के संबंधित विभाग को अभियोजन स्वीकृति के लिए लिखा था, लेकिन इसमें काफी समय लग गया। अब जाकर विभाग की स्वीकृति मिलने पर दोनों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया है।

खबरें और भी हैं...