बदइंतजामी:यह कैसी तैयारी... गैस कनेक्शन बिना 6 में से 5 जगह शुरू नहीं हो सकी इंदिरा रसोई

झालावाड़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झालावाड़. इंदिरा रसोई मेें किचन शुरू नहीं होने से शोपीस बने रहे सामान। - Dainik Bhaskar
झालावाड़. इंदिरा रसोई मेें किचन शुरू नहीं होने से शोपीस बने रहे सामान।
  • सीएम ने किया था शुभारंभ, मुख्य कार्यक्रम में भी घरेलू सिलेंडर लगाना पड़ा

इंदिरा रसोई योजना का रविवार को सीएम ने वर्चुअल शुभारंभ किया, लेकिन नगरपरिषद के अधिकारी सीएम की इस महत्वाकांक्षी योजना की पहले से तैयारी नहीं कर पाए। यहां पर कॉमर्शियल गैस कनेक्शन ही नहीं लिए गए। इसके चलते छह में से पांच स्थानों पर इंदिरा रसोई शुरू ही नहीं हो पाई। पहले दिन यहां पर लोग खाना खाने भी पहुंचे, लेकिन रसोई शुरू नहीं होने से उन्हें वापस लौटना पड़ा। नगरपरिषद की ओर से कॉमर्शियल गैस कनेक्शन के लिए पहले से आवेदन नहीं किए गए।

इसी का नतीजा है कि शहर में नई शुरू की गई इंदिरा रसोई के छह स्थानों में से एक को भी कॉमर्शियल कनेक्शन नहीं मिल पाए। शहर में गढ़ परिसर, डीटीओ ऑफिस, पॉलिटैक्निक कॉलेज, एसआरजी अस्पताल, फायर ऑफिस और भवानीक्लब में शहरी इंदिरा रसोई शुरू की गई है। इसी के लिए पहले से तैयारी करनी थी, लेकिन नगरपरिषद के अधिकारियों ने सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट को भी गंभीरता से नहीं लिया। भास्कर टीम ने रविवार को सभी स्थानों पर जाकर देखा तो कहीं भी गैस का कनेक्शन नहीं मिला। इस योजना में आठ रुपए में लोगों को भरपेट खाना खिलाया जाना है।

जहां एडीएम ने किया उद्‌घाटन वहां ही उड़ी नियमों की धज्जियां
यूं तो घरेलू गैस सिलेंडर का कॉमर्शियल उपयोग बाजार में होता दिखे तो तुरंत ही कार्रवाई होती है, लेकिन गढ़ परिसर में लगी इंदिरा रसोई योजना में इन नियमों की धज्जियां उड़ी। यहां पर एडीएम राधेश्याम डेलू सहित अन्य अधिकारियों ने शुभारंभ किया। इसमें घरेलू सिलेंडर लगाया गया। इसका कारण यही रहा कि अभी तक कॉमर्शियल कनेक्शन ही नहीं मिल पाया। इसके चलते यहां पर घरेलू सिलेंडर लगाना पड़ा। अभी हालात यह हैं कि नगरपरिषद में अधिकतर पद कार्यवाहक अधिकारियों के भरोसे चल रहे हैं। इसी का नतीजा है कि यहां पर अव्यवस्थाएं हो रही हैं।
^ हमने कॉमर्शियल गैस सिलेंडर के लिए आवेदन किया हुआ है। जल्द ही सभी जगह पर कनेक्शन मिल जाएंगे। रविवार को पहला दिन था, नेटवर्क का भी ईश्यू रहा। सोमवार से सारी व्यवस्थाएं दुरुस्त रहेंगी।
- अशोक शर्मा, आयुक्त नगरपरिषद झालावाड़

खबरें और भी हैं...