बड़ी कार्रवाई:पुलिस ने पकड़े 2 लाख 46 हजार 400 रुपए के नकली नाेट, आराेपी की पत्नी भी गिरफ्तार

झालावाड़10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झालावाड़. झालरापाटन पुलिस ने आरोपी के मकान से जब्त किए नकली नोट। - Dainik Bhaskar
झालावाड़. झालरापाटन पुलिस ने आरोपी के मकान से जब्त किए नकली नोट।
  • चार दिन पहले कोटा की मंडाना पुलिस ने पकड़े थे तीन आरोपी, इनमें से दो झालावाड़ जिले के
  • 200 रुपए के 1232 नकली नोट मिले एक आरोपी के घर से, मशीन भी जब्त

पुलिस ने बुधवार को काेटा के मंडाना में गिरफ्तार झालावाड़ निवासी नकली नाेट बनाने के आराेपियाें के घर की बुधवार काे तलाशी ली ताे 200 रुपए के 1232 नकली नोट मिले। पुलिस ने यहां से नकली नाेट बनाने में प्रयुक्त प्रिंटर भी जब्त किया है। साथ ही आरोपी की पत्नी टीया चाैधरी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के अनुसार झालरापाटन थानाधिकारी महावीरसिंह व जिला स्पेशल टीम के भूपेंद्रसिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने झालरापाटन में सूरजपोल नाका, चंद्रावती कॉलोनी में मनीष पुत्र विक्रमसिंह चौधरी के रिहायशी मकान दबिश दी। यहां से पुलिस काे 200 रुपए के 1232 नकली नोट मिले। साथ ही यहां पर नकली नोट तैयार करने में काम आने वाली विभिन्न प्रकार की स्याही, केमिकल, कागज, कटर, स्क्रीन प्रिंटिंग फ्रेम, डीकोडिंग पाउडर के पाउच, पिंक कलर के क्रिस्टल के पाउच, स्क्रीन प्रिंटिंग के काम आने वाली रबड़ की ब्लेड व पीवीसी मैट व्हाइट सामग्री बरामद की है।

पुलिस को मनीष चौधरी के मकान में जाली मुद्रा और इसे छापने के काम में आने वाले उपकरण रखे होने की सूचना मिली थी। इस पर पुलिस ने घर की तलाशी ली ताे 2 लाख 46 हजार 400 रुपए के नकली नोट भी बरामद किए। इस मामले में मनीष चौधरी के खिलाफ भारतीय मुद्रा का कूटकरण करने, कूटकृत भारतीय मुद्रा कब्जे में रखने और भारतीय मुद्रा को सदृश्य मुद्रा बनाने के उपकरण रखने की धाराओं में प्रकरण दर्ज किए गए हैं। साथ ही पूछताछ के बाद इस मामले में आराेपी मनीष चाैधरी की पत्नी टीया काे भी गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई में थानाधिकारी महावीरसिंह के साथ हैडकांस्टेबल गौतमचंद, सीताराम, कांस्टेबल बाबूलाल, राकेश कुमार, वसीम अकरम, दीपक व उमंग स्वामी के अलावा जिला स्पेशल टीम से भूपेंद्रसिंह, सुरेंद्रसिंह, रामरतन, मुकेशचंद, मुकेश कुमार और मुकेश शामिल रहे।

इनसाइड स्टोरी... पहले चार प्रशिक्षित आरोपियों से ली नकली नोट बनाने की ट्रेनिंग, फिर यूट्यूब पर भी इसका प्रॉसेस देखते रहे

अब मंडाना पुलिस की गिरफ्त में नकली नाेट बनाने के तीनों आराेपी

झालरापाटन. इस मकान से नकली नोट बरामद हुए।
झालरापाटन. इस मकान से नकली नोट बरामद हुए।

झालावाड़| आराेपी मनीष चौधरी और उसके साथियों ने पहले प्रशिक्षित चार आरोपियों से नकली नोट बनाने का प्रशिक्षण लिया। इस बात का खुलासा मंडाना में नकली नोट के आरोप में गिरफ्तार हुए मनीष चौधरी और उसके साथी सातलखेडी निवासी सुरेश कुमार गुर्जर और झालावाड़ जिले के गिरधरपुरा निवासी सीताराम ने पुलिस के सामने किया। चार दिन पहले यह सभी आरोपी मंडाना पुलिस की गिरफ्त में आए थे। तलाशी में इनके पास से पुलिस काे चार नकली नोट मिले थे। तभी से यह तीनों मंडाना पुलिस की गिरफ्त में हैं। अब मंडाना में रिमांड पूरा होने के बाद मनीष चौधरी को झालावाड़ लाया जाएगा। आराेपियाें ने पुलिस को बताया कि इन्होंने ऐसे अपराधियों की तलाश की जो पहले से ही नकली नोट बना रहे हैं। उनकी मुलाकात मध्यप्रदेश के सुसनेर के कमल यादव से हुई। इसके खिलाफ विभिन्न थानों में नकली नोट बनाकर बाजार में चलाने के दो मामले हैं। उत्तरप्रदेश निवासी अंकित, मंुबई निवासी दानिश और दिल्ली निवासी बृजेश से भी यह लोग मिले। इन चारों के खिलाफ अलग-अलग थानों मेंे नकली नोट बनाने के मामले दर्ज हैं। इन्हीं से नकली नोट बनाने का प्रशिक्षण लिया। फिर यू ट्यूब पर भी इसको सर्च किया। मंडाना पुलिस ने इनके मोबाइल की जांच की तो यह खुलासा हुआ। एक दूसरे को इसके लिंक भी इन्होंने व्हाट्स एप पर शेयर किए थे।

खबरें और भी हैं...