झालावाड़ में युवक को दिनदहाड़े मारी गोली:पीड़ित ऑटो में बैठकर खुद ही पहुंचा अस्पताल, पर बच नहीं पाया

झालावाड़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के मामा भांजा चौराहे पर एक युवक को सोमवार दोपहर करीब 4 बजे दिनदहाड़े बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। - Dainik Bhaskar
शहर के मामा भांजा चौराहे पर एक युवक को सोमवार दोपहर करीब 4 बजे दिनदहाड़े बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

शहर के मामा भांजा चौराहे पर एक युवक को सोमवार दोपहर करीब 4 बजे दिनदहाड़े बदमाशों ने गोली मार दी। घायल युवक एक ऑटो में बैठकर अस्पताल पहुंचा, लेकिन वहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस ने दो नामजद आरोपियों के खिलाफ मर्डर का मामला दर्ज किया है।

एसपी ऋचा तोमर ने बताया कि झालावाड़ के फीलखाना मोहल्ला ईदगाह रोड का रहने वाले आकिब उर्फ आरिश (20) पुत्र वहीद अपने साथी जुबेर उर्फ लवी के साथ बाइक पर बैठकर फॉरेस्ट ऑफिस की तरफ से मामा भांजा चौराहे पर जा रहा था। जहां मामा भांजा चौराहे पर पीछे से आए दो बाइक सवार आरोपी असलफ ओर छोटू जोशी ने जुबेर और आकिब उर्फ आरिश को गन्नों से मारकर रोका। इससे दोनों हड़बड़ा गए तथा नीचे गिर गए। इसके बाद बाइक सवारों ने फायरिंग शुरू कर दी। स्थिति को भांपते हुए जुबेर उर्फ लवी मौके से भाग निकला, लेकिन आकिब के गले में गोली लग गई, जो उसके पेट में समा गई। मौके पर आकिब खुद ही एक ऑटो वाले के पास पहुंचा और उसे अस्पताल ले जाने को कहा। ऑटो में बैठकर आकिब अस्पताल तो पहुंच गया, लेकिन वहां पहुंचते ही कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया।

घटना की सूचना परिजनों को मिलने पर अस्पताल पहुंचे। बताया जा रहा है कि आकिब कि कोई रंजिश नहीं थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आकिब उर्फ आरिश के शव को अपने कब्जे में लेकर झालावाड़ अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया, जहां पोस्टमार्टम की कार्रवाई हुई। झालावाड़ पुलिस अधीक्षक ऋचा तोमर खुद भी अस्पताल पहुंची और मोर्चरी में जाकर मृतक के शव का मुआयना किया। साथ ही मृतक के पिता एवं उसके साथियों से मोर्चरी में ही पूछताछ की। इसके बाद अपने अधीनस्थों को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।

कोतवाली सीआई चंद्र ज्योति शर्मा ने बताया कि आरोपी छोटू जोशी बाइक चला रहा था, जबकि दूसरा आरोपी बाइक पर सवार था जिसने गोली मारी। दोनों पक्षों में पूर्व में भी लड़ाई झगड़े होने की रंजिश सामने आ रही है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को पुलिस हिरासत में ले लिया है।