घोड़ी पर बैठाकर निकाली बेटी की बिंदोरी:महिला को पुरुष के बराबर सम्मान देने का लिया संकल्प, बेटी बोली- विदाई से पहले हर बेटी को मिले ऐसा सम्मान

चिड़ावा9 दिन पहले

घर से विदाई से पहले पीहर में मिले सम्मान ने बेटी की खुशी कई गुना बढ़ गई। मौका था निकटवर्ती ग्राम पंचायत डालमिया की ढाणी के गांव चौहानों की ढाणी में एडवोकेट निहाल सिंह महरिया की भतीजी सुनीता मेघवाल पुत्री अमर सिंह मेघवाल की शादी का। इस मौके को खास बनाने और बेटी की खुशी को बढ़ाने के लिए निहाल सिंह ने बेटी की बिंदौरी निकालने का फैसला लिया।

सरपंच संदीप कुमार के सानिध्य में बेटी सुनीता को बेटे की तरह ही नेगचार के बाद घोड़ी पर बैठाकर बिंदौरी निकाली गई। सभी ने इस दौरान महिला को पुरुष के बराबर सम्मान देने का संकल्प लिया। बेटी सुनीता ने कहा कि वो पीहर से विदाई से पूर्व इस तरह मिले सम्मान को ताउम्र याद रखेंगी। उसने कहा कि हर बेटी को ऐसा सम्मान मिलना चाहिए। इस अवसर ठेकेदार राजेश नारी,पंचायत समिति सदस्य प्रदीप सैनी और सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण महिला और पुरुष मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...