मां को पीट रहा था, पुलिस पर ट्रैक्टर से हमला:जीप को कुएं में धकेलने वाला था, 3 कॉन्स्टेबल ने कूदकर बचाई जान

झुंझुनूं2 महीने पहले
झुंझुनूं की सुल्ताना पुलिस पर जानलेवा हमला।

मां को पीट रहे बेटे को पकड़ने आधी रात पहुंचे पुलिस के 3 कॉन्स्टेबल की जान हलक में आ गई। आरोपी ने ट्रैक्टर से पुलिस जीप पर हमला कर दिया। कुछ कदम की दूरी पर कुआं था। मंशा थी जीप समेत पुलिस वालों को कुएं में धकेलने की। पुलिसकर्मियों ने जीप से कूदकर जान बचाई। यह मामला बुधवार रात 1 बजे झुंझुनूं के श्यामपुरा गांव का है। तीनों पुलिसकर्मी घायल हैं।

ट्रैक्टर से किया जानलेवा हमला

झुंझुनूं की सुल्ताना पुलिस पर मारपीट के आरोपी ने ट्रैक्टर से जानलेवा हमला किया। पुलिस की जीप को उसने ट्रैक्टर से टक्कर मार-मारकर 8 से 10 फीट तक घसीट दिया और कुंए में धकेलने की कोशिश की। पुलिसकर्मी अगर वक्त रहते जीप से न कूदते तो हश्र बुरा होता। हमले में झुंझुनूं के सुल्ताना चौकी के हेड कॉन्स्टेबल योगेश कुमार व दो अन्य कॉन्स्टेबल के हाथ व सीने पर चोटें आई। ट्रैक्टर की टक्कर से पुलिस जीप टूट गई। यह सब सुल्ताना थाना इलाके के श्यामपुरा गांव में हुआ।

बुधवार आधी रात मिली थी शिकायत

गुरुवार को सुल्ताना पुलिस ने चिड़ावा थाने में मामला दर्ज कराया। रिपोर्ट में बताया कि बुधवार रात 1 बजे सुल्ताना पुलिस को श्यामपुरा गांव के नबीर डूडी नाम के युवक ने फोन पर सूचना दी कि गांव में उसकी बुजुर्ग नानी जमुना देवी से उसका बेटा अनिल (नबीर का मामा) मारपीट कर रहा है। पुलिस ने वैरिफिकेशन के लिए नबीर से जमुना देवी के फोन नंबर लिए और पूछताछ की तो उसने कहा कि उसका बेटा मारपीट कर रहा है। इसके बाद हेड कॉन्स्टेबल योगेश के साथ दो पुलिसकर्मी जीप लेकर श्यामपुरा पहुंचे।

पुलिस जीप को कुएं में धकेलने की कोशिश

घर के बाहर पुलिस की जीप देखकर आरोपी अनिल भड़क गया। वह पुलिसवालों के साथ भी गाली-गलौज करने लगा और जान से मारने की धमकी दी। पुलिस मामले को संभालती इससे पहले ही अनिल ने ट्रैक्टर स्टार्ट किया और पुलिस की जीप को टक्कर मारना शुरू कर दिया। आरोपी ने ट्रैक्टर से पुलिस की जीप को 5-7 बार टक्कर मारी। वह जीप को धकेलते हुए 8-10 फीट दूर ले गया और कुएं में डालने की कोशिश की। पुलिसकर्मियों ने जीप से कूदकर जान बचाई। वे आस-पास के खेतों में छिप गए।

ट्रैक्टर लेकर फरार हुआ आरोपी

घटना के बाद अनिल ट्रैक्टर लेकर मौके से फरार हो गया। बाद में सुल्ताना पुलिस ने चिड़ावा थाना पुलिस को घटना की जानकारी दी और अतिरिक्त जाब्ता बुलाया। मौके पर चिड़ावा थाने का जाब्ता भी पहुंच। मौके पर ही आरोपी की आसपास के गांवों व खेतों में तलाश की गई, लेकिन अनिल का सुराग नहीं लगा।

सुलताना चौकी के हेड कॉन्स्टेबल राजेश ने इस संबंध में रिपोर्ट दी थी। एडिशनल एसपी तेजपाल सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है, आरोपी की तलाश के लिए टीम का गठन कर दिया है। पुलिस टीम की ओर से आरोपी की तलाश की जा रही है।