शहरवासी बोले- सड़कें बनवाओ:झुंझुनूं में कई वार्ड में नालियां, जल-जमाव बना परेशानी, लोगों ने गिनाई समस्याएं

झुंझुनूं4 महीने पहले
शहर की सडक़ें टूटी

दैनिक भास्कर के रूबरू कार्यक्रम में रविवार को झुंझुनूं के वार्डवासियों ने अपनी समस्याएं रखीं। मौके पर मौजूद सभापति और अधिकारियों ने समस्याओं का समाधान का आश्वासन दिया। कार्यक्रम को लेकर शहरवासियों में जोश दिखा।

कार्यक्रम में लोगों ने सभापति और अपने वार्ड पार्षदों को अपने अपने इलाकों की समस्याओं से अवगत करवाया। शहर के 17 से लेकर 28 वार्डों के लोगों के साथ तीन नम्बर रोड स्थित मोरारका भवन में अधिकारी रूबरू हुए। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सभापति नगमा बानो थीं। सभापति नगमा बानो ने कहा कि भास्कर ने बेहतर मंच दिया है। समस्याओं के लिए वार्डवासियों से सीधा रूबरू होने का मौका मिल रहा है। कार्यक्रम में वार्ड 17 के पार्षद प्रतिनिधि उमर कुरैशी, वार्ड 18 के पार्षद अदनान, वार्ड 20 के भंवर अली, वार्ड 21 के मुकेश कुमार, वार्ड 23 के पार्षद प्रतिनिधि विजेन्द्र लाम्बा, वार्ड 27 के यूनुस रहमानी मौजूद थे।

टूटी नाली और सफाई की उठी मांग
अधिकतर वार्डों में टूटी सड़कें, नालिया की साफ सफाई नहीं होने, वार्ड में लाइट की व्यवस्था, पानी की निकासी नहीं होने की समस्याएं सामने आईं । वार्ड नं. 17 में मड पम्प लगाने की मांग रखी गई। वार्ड में जगह जगह पानी भरने की बड़ी समस्या सामने आई। पार्षद विजेन्द्र लांबा ने बताया कि तीन साल से उनके वार्ड में एक पैसे का भी काम नहीं हुआ। नगर परिषद में लाइट, सफाई आदि की कोई शिकायत करते हैं तो अधिकारी फोन नहीं उठाते। वार्ड की अधिकातर लाइटें खराब पड़ी हुई है। वार्ड में 15 सडक़ों के एसटिमेंट बने हुए हैं, लेकिन अब तक एक भी रोड भी नही बनीं।

वार्ड नं. 17 के मिल्लत नगर निवासी राम कुमार ने पट्टा नहीं देने की बात कही। उन्होंने कहा कि कॉलोनी में बसे कई लोगों के पट्टे जारी हो गए, लेकिन उन्हें अब तक पट्टा नहीं दिया गया। वार्ड नं 18 निवासी मोहम्मद अनीस ने सीवरेज लाइन से नहीं जोड़ने की बात कही। अनीस ने कहा कि वार्ड में अब तक सीवरेज लाइन नहीं डाली गई। पानी की समस्या बहुत ज्यादा है, सड़कें टूटी हूई हैं, पानी की निकासी नहीं हो पाती है। पानी मुख्य सड़कों पर एकत्रित हो जाता है। बरसात में घरों से निकलना मुश्किल हो जाता है।

वार्ड नं. 19 के निवासियों ने नाली व सड़कों का निमार्ण नहीं होने की बात रखी। वार्ड नं. 20 के निवेन्द्र अग्रवाल ने वार्ड में सड़क व नाली निमार्ण नहीं होने की बात कही। वार्ड 21 में खेमी सती मंदिर के पास बरसात का पानी एकत्रित होने की बात सामने आई, उसके समाधान के लिए सभापति को अवगत कराया। इसके अलावा पुराना बस स्टैंड के पास शौचालय के बनाने की मांग रखी। वार्ड नं. 25 में सड़क नहीं बनने, बरसात का पानी एकत्रित होने का मुद्दा उठाया। वार्ड नं. 26 के अंकुर मोदी ने बारिश के मौसम में मेट्रो हॉस्पिटल के सामने पानी इकठ्ठा होने की बात कही।

सभापति नगमा बानो ने कहा कि वार्ड नंबर 18 में पानी की समस्या सबसे ज्यादा है। वार्ड सीवरेज कनेक्शन नहीं होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड रहा है। रेलवे विभाग के कारण वार्ड में सीवरेज लाइन में डालने में दिक्कत आ रही है।