मशक्कत:झूठी निकली 12 लाख रुपए लूट की सूचना, दो लोगों को फंसाने के लिए सब्जी व्यापारी ने रची थी कहानी

जोधपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कारोबारी के ड्राइवर ने महामंदिर पुलिस थाने में शिकायत की है। - Dainik Bhaskar
कारोबारी के ड्राइवर ने महामंदिर पुलिस थाने में शिकायत की है।
  • पुलिस ने दिनभर की जांच के बाद सुलझा ली लूट की गुत्थी

शहर में शनिवार देर रात 12 लाख रुपए के लूट की कहानी झूठी निकली। आपसी विवाद में हुई मारपीट के बाद अन्य लोगों को फंसाने के लिए एक युवक ने लूट की झूठी कहानी गढ़ ली। पुलिस दिनभर लूट की गुत्थी सुलझाने में उलझी रही। बाद में पूछताछ में सामने आया कि इस घटना में मारपीट अवश्य हुई, लेकिन लूट नहीं हुई। जोधपुर में 12 लाख रुपए लेकर भुगतान करने आया युवक इन रुपए को अपने भाई के साथ पहले से ही यहां से भेज चुका था।

यह गढ़ी कहानी

देणोक निवासी मघाराम ने पुलिस को बताया कि जोधपुर से सब्जी खरीद फलोदी व ग्रामीण क्षेत्र के अन्य स्थानों पर बेचता है। सब्जी खरीद के बारह लाख रुपए लेकर वह कल देर रात मंडी पहुंचा। मंडी में बच्छ बारहस के कारण व्यापारी आए नहीं। इस पर वह रुपए वापस लेकर जा रहा था। मंडी से बाहर निकलते समय रेलवे फाटक के स्पीड ब्रेकर पर उसकी गाड़ी धीमे होते ही तीन लुटेरों ने उसे रुकवा दिया। गाड़ी रोकते ही लुटेरों ने चालक पर हमला बोल दिया। जबकि मघाराम अपने बचाव में वहां से भाग गया। वहीं गाड़ी में सवार एक अन्य युवक वहां से भाग निकला। लुटेरों ने चालक को घायल कर गाड़ी के कांच फोड़ उसमें एक बैग में रखे 12 लाख रुपए लूट लिए और घटना स्थल से फरार हो गए।

पूछताछ में सामने आई सच्चाई

बाद में मघाराम से पूछताछ में सामने आया कि दो दिन पूर्व मंडी में ही काम करने वाले शैतानसिंह नगर निवासी जीवन व जगदीश के साथ उसकी तकरार हुई थी। इस पर उन्होंने उसे लूट लेने की धमकी दी थी। ये दोनों युवक पुलिस को मंडी में ही मिल गए। पुलिस की पूछताछ में उन्होंने स्वीकार किया कि मदेरणा कॉलोनी निवासी राकेश विश्नोई से उसने मघाराम से बदला लेने को कहा था। बाद में राकेश ने कल रात आमीन व इमरान के साथ मिलकर कृषि मंडी के बाहर मघाराम के वाहन में तोड़फोड़ अवश्य की, लेकिन लूट नहीं की। इस पर पुलिस ने मघाराम से सख्ती बरती तो उसने सच्चाई उगल दी। मघाराम ने जैसलमेर जा रहे अपने भाई को नोटों से भरा बैग सौंप दिया। इसके बाद जगदीश व जीवन को उलझाने के लिए झूठी कहानी रच दी।

खबरें और भी हैं...