पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फ्री टीके पर मिलीभगत से ‘टैक्स:केके कॉलोनी PHC में सामने दुकान से 20 रु. की पर्ची कटाने पर ही लगे टीके, संचालक भागा

जोधपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ’PHC में जितने टीके थे, पैसे लेकर उतनी ही पर्चियां काटी

नागरिकाें के लिए निशुल्क वैक्सीनेशन अभियान के बीच कुछ असामाजिक तत्व मिलीभगत कर अपने स्वार्थ सिद्ध कर रहे हैं। शहर में रविवार को एक स्थान पर वैक्सीन लगाने के लिए लोगों से पैसे लिए जा रहे थे। बासनी में केके कॉलोनी पीएचसी पर टीका लगाने आ रहे आमजन से पीएचसी के बाहर दुकान पर रजिस्ट्रेशन के नाम पर प्रति व्यक्ति 20 रु. लिए जा रहे थे। यहां की पर्ची मिलने के बाद ही चिकित्सा संस्थान में व्यक्ति को टीका लगाया जा रहा था।

इसकी सूचना भास्कर टीम ने मौके से डिप्टी सीएमएचओ डॉ. प्रीतम सिंह सांखला को दी। उन्होंने तुरंत वहां आने की बात कही। इस बीच हंगामा होने पर संचालक दुकान बंद कर वहां से भाग गया। चिकित्सा संस्थान में रविवार को 300 कोविशील्ड और 140 को-वैक्सीन का स्लॉट लिया हुआ था। उतने ही आमजन की पर्ची दुकानदार काट चुका था।

विभाग की सेशन लाइव नहीं होने की सूचना, फिर भी रजिस्ट्रेशन कर ले रहे थे पैसे

भास्कर को टीके के लिए पैसे लेने की शिकायत लगातार मिल रही थी। इस पर टीम मौके पर पहुंची। केके कॉलोनी पीएचसी के बाहर मेडिकल दुकान के पास एक कंप्यूटर लेकर बैठा व्यक्ति वैक्सीन के नाम पर लोगों से 20 रुपए देकर पर्ची काट रहा था। 15-20 लोग दुकान के बाहर पर्ची कटाने के लिए खड़े थे। इससे अधिक पीएचसी के अंदर वैक्सीन लगाने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। जबकि शहर में किसी भी पीएचसी पर कोई भी ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन की सुविधा नहीं है।

इसके अलावा विभाग अपने ऑफिशियल सोशल आईडी पर 4 सितंबर को सूचना दे चुका है कि 5 सितंबर को कोविड वैक्सीनेशन के स्लॉट बुकिंग के लिए सेशन लाइव नहीं होंगे। इसके बावजूद केके कॉलोनी पीएचसी और निजी दुकानदार की मिलीभगत से आमजन से वैक्सीन रजिस्ट्रेशन के लिए पैसे लिए जा रहे थे।

लोग बोले- 20 रुपए लेकर पर्ची दी

वैक्सीन लगाने पहुंचे संजय केसरी ने बताया कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए दुकानदार ने 20 रुपए लिए। इसके बाद ही वैक्सीन लगाई। वहीं टीपू चौधरी ने बताया कि उन्हें 74 नंबर की पर्ची दी और उसके लिए बाहर दुकान पर 20 रुपए लिए।

पीएचसी इंचार्ज बोले- हम नहीं, ई-मित्र वाले पैसा ले रहे हैं

श्रमिक काॅलोनी में शनिवार को कैंप था, वहां अव्यवस्था हो गई। इसके चलते रविवार को स्थानीय पार्षद के कहने से कैंप का आयोजन किया गया। हमारे यहां कोई पैसा नहीं लिया जा रहा है। अस्पताल के बाहर कई सारे ई-मित्र हैं। वे पैसा ले रहे हैं। हम इसमें कुछ नहीं कर सकते हैं।
-डॉ. फैजान, केके कॉलोनी पीएचसी इंचार्ज

ये गलत है, जो भी शामिल मिला कार्रवाई होगी: DCMHO

वैक्सीन लगाने आए लोगों से पूछा ताे उन्होंने कहा कि ऑनलाइन के लिए पैसे लिए हैं। यह नियमानुसार गलत है। इसकी जांच के लिए बासनी थाने में अवगत कराया है। साथ ही पीएचसी इंचार्ज को भी कहा है कि इसमें यदि किसी कर्मचारी या नर्सिंगकर्मी शामिल मिला तो उस पर भी कार्यवाही की जाएगी।
-डॉ. प्रीतमसिंह सांखला, डिप्टी सीएमएचओ

खबरें और भी हैं...