पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • 20 Kg Of Opium Brought From Manipur At The Behest Of The Prisoner Sitting In Jail, Killed 2 Colleagues When Demand Increased

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

डबल मर्डर:मणिपुर से 20 किलो अफीम लाने के बाद हिस्सा ज्यादा मांगने लगे तो जेल में बंद सरगना ने दोनों साथियों को मरवा डाला

जोधपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने हत्या मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अभी तीन और आरोपियों की तलाश कर रही है।
  • तस्करों के बीच खूनी खेल का उठा पर्दा, तीन गिरफ्तार
  • जेल में बंद कैदी मांगीलाल जेल से बाहर तस्करी का काम करवा रहा था

शहर में पिछले सप्ताह हुए डबल मर्डर के मामले में पुलिस को सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने शुक्रवार को तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद बचे हुए आरोपियों की तलाश की जा रही है। एडीसीपी उमेश ओझा ने बताया कि जेल में बंद मांगीलाल के इशारे पर 20 किलो अफीम मणिपुर से लाई गई थी। इसमें मृतक महेंद्र और भैराराम कोरियर ब्वॉय की भूमिका में थे। इसके बाद हिस्से और कमीशन को लेकर मांगीलाल ने महेंद्र और भैराराम की हत्या करवा दी थी।

जेल में बंद कैदी मांगीलाल तस्करी करवा रहा था
पुलिस ने ओमप्रकाश, हरिराम विश्नोई और श्रवण को गिरफ्तार किया है। पुलिस की मानें तो जेल में बंद कैदी मांगीलाल जेल से बाहर तस्करी का काम करवा रहा था। साथी तस्कर ओमप्रकाश व सुरेश सहित श्रवण बाहर माल को ठिकाने लगाने व उसे बेचने की भूमिका अदा करने वाले थे, लेकिन कूरियर बॉय यानी माल को जोधपुर तक लाने का काम करने वाले महेंद्र व भैराराम की डिमांड बढ़ने से पूरा खेल खराब हो गया। ऐसे में ओमप्रकाश, सुरेश व श्रवण ने मिलकर महेंद्र व भैराराम को मौत के घाट ही उतार डाला।

सुलह के लिए ले गए... फिर अपहरण कर हत्याएं की
मामले के अनुसार महेंद्र व भैराराम जब तस्करी के माल पर नजर रखने लगे तो वो खूनी खेल की भेंट चढ़ गए। वहीं दोनों से सुलह करने के लिए बदमाश इन्हें गाड़ी में बैठाकर ले गए, लेकिन बात नहीं बनती दिखी तो दोनों को मार डाला। मामले को लेकर इसके बाद कुड़ी थानाधिकारी जुल्फिकार अली ने बताया कि बोयल तहसील पीपाड़ निवासी महावीर पुत्र हरदेवराम जाट ने रिपोर्ट दी थी।

इसमें बताया कि 11 नवंबर को उनके चाचा के पुत्र महेंद्र पुत्र मोहनराम के घर शाम साढ़े चार बजे 2 गाड़ियां पहुंचीं। इसमें महेंद्र का साढू डांगियावास निवासी श्रवण सहित चार पांच अन्य आए और महेंद्र को गाड़ी में बैठा ले गए। अगले दिन पता चला कि महेंद्र के साथ कोई घटना हो चुकी है तो तुरंत एमडीएम अस्पताल पहुंचे। तब पता चला कि श्रवण, ओमप्रकाश विश्नोई व सुरेश नोखड़ा सहित दस से बारह जनों ने महेंद्र के साथ फिटकासनी में मारपीट की फिर उसकी हत्या कर दी गई।

इसके बाद महेंद्र के शव को बोरानाडा थाना इलाके की नारनाडी में फेंक दिया गया था। इसी प्रकार डांगियावास निवासी श्यामलाल पुत्र कोजाराम जाट ने रिपोर्ट दी थी। उसमें बताया कि उनका भाई भैराराम जयपुर जाने के लिए बोल कर घर से निकला था। 11 नवंबर को जब भैराराम से फोन पर बात हुई तो कहा कि वो वापस आ गया है, मंडोर मंडी में एक ट्रक खाली करवाते ही घर आ जाएगा। तभी वहां एक कार में सुरेश नोखड़ा व ओमप्रकाश विश्नोई पहुंचे। जिन्होंने ट्रक चालक व ड्राइवर को गाड़ी में बैठाकर कर कहीं ले गए।

वहीं शाम को श्यामलाल को पता चला कि उसके भाई भैराराम को चोट लगी है, जो कि मेडिपल्स अस्पताल में भर्ती है। जब श्यामलाल वहां पहुंचा तो भैराराम का शव पड़ा मिला। श्यामलाल को संदेह हुआ कि सुरेश व ओमप्रकाश सहित अन्य ने मिलकर भैराराम का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी। फिर शव मेडिपल्स अस्पताल के पास फेंक दिया।

20 किलो अफीम व शेष आरोपी कहां?... ये पुलिस के लिए चुनौती :
मामले को लेकर जो बीस किलो अफीम मणिपुर से लाया गया था। वो कहां और किसके कब्जे में हैं ये पुलिस के लिए जानना अब भी बाकी है। वहीं पुलिस सूत्रों की मानें तो अफीम ग्रामीण इलाके में ही कहीं है। जिसकी तलाश की जा रही है। पुलिस का मानना है कि बाकी आरोपी पकड़े जाने पर अफीम भी बरामद कर लिया जाएगा। वहीं शेष आरोपी अब भी पुलिस गिरफ्त से दूर है। एडीसीपी ओझा ने बताया कि जल्द ही शेष आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

डबल मर्डर के लिए टीम गठित की
शहर में एक साथ दो जनों की हत्या के मामले में टीम गठित की गई। इसमें बोरानाडा एसीपी मांगीलाल राठौड़, चौहाबो थानाधिकारी लिखमाराम, लूणी थानाधिकारी सीताराम, झंवर थानाधिकारी परमेश्वरी, बोरानाडा थानाधिकारी किशनलाल, प्रतापनगर थानाधिकारी अमित सिहाग सहित डीएसटी पूर्व व पश्चिम साइबर सेल की टीम शामिल रही।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें