• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • 28 Days Ago, At The Behest Of His Wife, He Gave ₹ 1 Lakh In CM Fund, After 22 Days His Wife Died, Postponed Social Programs And Donated 50 Thousand.

प्रेरक पहल:28 दिन पहले पत्नी के कहने पर सीएम फंड में दिए थे ‌1 लाख, 22 दिन बाद पत्नी का निधन, सामाजिक कार्यक्रम स्थगित कर और 50 हजार दान किए

जोधपुर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
80 वर्षीय व्यास ने अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट को सहायता रािश का चेक सौंपा। - Dainik Bhaskar
80 वर्षीय व्यास ने अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट को सहायता रािश का चेक सौंपा।
  • 80 वर्षीय बुजुर्ग बद्रीकिशन व्यास ने कोरोना पीड़ितों के लिए दी राशि, बोले- पत्नी बीमार रहते हुए भी सहायता करने को तैयार रहती थी

ये हैं शहर के 80 वर्षीय बद्रीकिशन व्यास। इन्होंने जरूरतमंदों की सेवा को ही अपने जीवन का लक्ष्य बना लिया है। अपने परिवार से ही समाजसेवा के लिए प्रेरित व्यास ने गत 26 अप्रैल को पत्नी के निधन पर उनकी स्मृति में होने वाले सारे सामाजिक कार्यक्रम स्थगित कर 50 हजार रुपए मुख्यमंत्री राहत कोष में दान देकर अनूठा उदाहरण पेश किया। व्यास ने बताया कि गत 2 अप्रैल पत्नी लक्ष्मीदेवी ने उन्हें कोरोना पीड़ितों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक लाख रुपए दान करने के लिए प्रेरित किया था। तब एक लाख का चेक अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट प्रथम मदनलाल नेहरा को सुपुर्द किया था।

बाद में बीमारी के चलते लक्ष्मीदेवी का 24 अप्रैल को निधन हो गया। इस पर व्यास ने लक्ष्मीदेवी की स्मृति में सारे सामाजिक कार्यक्रम निरस्त करवाकर 50 हजार रुपए की सहायता राशि का चेक मुख्यमंत्री सहायता कोष में अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट को दिया। उन्होंने बताया कि पत्नी बीमार रहने के बावजूद लोगों की आर्थिक सहायता करने के लिए हमेशा अग्रणी रहती थीं। 
अनाथ लड़कियों की शादी के लिए भी दिए थे दो लाख रुपए
व्यास ने बताया कि पिता जयकिशन व्यास और बड़े भाई स्वतंत्रता सेनानी विजयकिशन व्यास आज इस दुनिया में नहीं हैं, वे हमेशा जरूरतमंदों की सेवा करते रहते थे और सामाजिक कार्यक्रमों में अपनी ओर से आर्थिक योगदान देते थे। उन्हीं से प्रेरित होकर ही उन्होंने भी समाजसेवा शुरू की। व्यास ने 2019 में नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर की ओर से अनाथ लड़कियों के विवाह कार्यक्रम के लिए भी 2 लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान की थी। संस्थान की तरफ से उनका जोधपुर व मुंबई में हुए कार्यक्रमों में सपत्नीक डायमंड शील्ड से सम्मानित किया गया था।

खबरें और भी हैं...