पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

शेर की मौत:चौथे जन्मदिन के 4 दिन पहले ‘कैलाश’ की जयपुर के नाहरगढ़ सफारी पार्क में मौत, जोधपुर में जन्मा था शेर

जोधपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मां से दूर था तो टेडी बीयर से चिपककर सो जाता था
  • टेडी बीयर में फिट की गई घड़ी की टिक-टिक को मां के दिल की धड़कन समझकर सोता था

माचिया बायोलॉजिकल सफारी पार्क के शेर जीएस व शेरनी आरटी की संतान कैलाश की जयपुर के नाहरगढ़ लॉयन सफारी पार्क में हार्ट अटैक से मौत हो गई। हालांकि मौत के कारणों का पोस्टमार्टम के बाद पता चलेगा, लेकिन प्रारंभिक तौर पर ऐसा माना जा रहा है। 23 अक्टूबर 2016 को कैलाश को आरटी ने जन्म दिया था। चार दिन बाद उसका जन्मदिन था, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
मां से दूर था तो टेडी बीयर से चिपककर सो जाता था
शावक कैलाश को मेडिकल टीम ने एक टेडी बीयर के साथ सुलाना शुरू किया, लेकिन एक-दो बार वह उसके साथ नहीं सोया तो उस टेडी बीयर में घड़ी फिट की गई। उसमें टिक-टिक की आवाज आती थी उसे वह अपनी मां की दिल की धड़कन समझता था और उससे चिपककर सो जाता था।
जोधपुर में अमेरिका का दूध पीकर बड़ा हुआ था कैलाश
जूनागढ़ के गिर अभ्यारण्य से लाए गए शेर-शेरनी आरटी व जीएस की संतान कैलाश का जन्म हुआ तो उसकी मां ने उसे दूध पिलाना बंद कर दिया। इससे वह काफी कमजोर हो गया। इस पर माचिया सफारी पार्क के तत्कालीन डॉक्टर श्रवणसिंह राठौड़ उसको बचाने के लिए 36 घंटे के लिए उसको मां से अलग कर उसकी देखरेख बच्चों की नर्सरी में करना चाहते थे, लेकिन शहर का कोई अस्पताल इस शावक के इलाज के लिए अपनी चाइल्ड नर्सरी नहीं दे रहा था। ऐसे में शहर का कैलाश हॉस्पिटल का प्रबंधन शेर के बच्चे को बचाने के लिए आगे आया।

अस्पताल प्रशासन ने अपनी नर्सरी दे दी। इसके बाद वन्यजीव विशेषज्ञ डॉ. राठौड़ व उनके साथी महेंद्र गहलोत ने अमेरिका से मंगवाए गए पेटलेक दूध और जीवनरक्षक दवाइयां देकर उसे बचाया। दो महीने तक उसे अस्पताल में अपनी केयर में रखा। दो माह कैलाश को माचिया सफारी की डिस्पेंसरी में रखा। उसे एक साल बाद दर्शकों के लिए माचिया में लाया गया।
भाई का खूब रखा ख्याल
कैलाश इतना समझदार था कि अपने से सात महीने छोटे भाई रियाज का पूरा ख्याल रखता था। रियाज अभी माचिया सफारी पार्क में है। एशियाटिक शेर की ब्रीड को बढ़ाने के उद्देश्य से गत वर्ष 22 सितंबर को उसे जयपुर के नाहरगढ़ लॉयन सफारी में भेजा गया, जहां रविवार को उसकी मौत हो गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें