जोधपुर में 5 महीने बाद कोरोना से मौत:वैक्सीन की एक भी डोज नहीं लगवाई थी,  47 वर्षीय संक्रमित ने दम तोड़ा

जोधपुरएक महीने पहले
मृतक का अंतिम संस्कार किया गया।

जोधपुर में मंगलवार को फिर एक कोरोना संक्रमित की मौत हुई। पीपीई किट में मरीज का अंतिम संस्कार किया गया। हालांकि मरीज बाड़मेर निवासी था और जोधपुर एम्स में भर्ती था। उसने वैक्सीन की एक डोज भी नहीं लगवाई थी। 47 वर्षीय मृतक गंभीर बीमारी से पीड़ित था। 6 दिसम्बर को जोधपुर एम्स में भर्ती हुआ उस समय कोरोना जांच पॉजिटिव आई। कल 14 दिसम्बर को उसकी मौत हो गई।

मंगलवार को 5 महीने 19 दिन बाद कोरोना से एक मौत हुई। एम्स में भर्ती बाड़मेर के 47 वर्षीय संक्रमित ने दम तोड़ दिया। उसने वैक्सीन की एक डोज भी नहीं लगवाई थी। परिजनों ने कोविड प्रोटोकॉल से सिवांची गेट स्थित ओसवाल मोक्षधाम में उसका अंतिम संस्कार किया। मृतक का एक गंभीर बीमारी से पीड़ित होने के कारण एम्स में लंबे समय से उपचार चल रहा था। उसी बीमारी को लेकर वह 6 दिसंबर को फिर भर्ती हुआ। भर्ती के समय की गई कोरोना जांच की रिपोर्ट 7 दिसंबर को पॉजिटिव आई।

जोधपुर के एड्रस पर लगा था ताला

मृतक का पता महावीर कॉलोनी गुरुओं का तालाब लिखा था। इस पर डिप्टी सीएमएचओं ने वहां टीम भेजी तो घर पर ताला लगा सिवांची गेट स्थित ओसवाल मोक्षधाम में परिजनों ने पीपीई किट पहन कर अंतिम संस्कार किया। था, फिर पता चला कि वह लंबे समय से बाड़मेर में ही रहता है। इलाज के लिए यहां आया था।

खबरें और भी हैं...