पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अच्छी खबर:एमडीएमएच में बन रहा 20 हजार किलोलीटर क्षमता का लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट इसी हफ्ते में हो सकता है शुरू

जोधपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑक्सीजन प्लांट में लगने वाला टैंकर बुधवार को पहुंचा। - Dainik Bhaskar
ऑक्सीजन प्लांट में लगने वाला टैंकर बुधवार को पहुंचा।

पश्चिमी राजस्थान के सबसे बड़े अस्पताल मथुरादास माथुर अस्पताल में एक करोड़ से अधिक की लागत से तैयार हो रहा लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट इस महीने के अंत तक शुरू हो सकता है।

बुधवार को ऑक्सीजन प्लांट में लगने वाला टैंकर भी एमडीएमएच में पहुंच चुका है और निर्माण एजेंसी की मानें तो अगले सात-आठ दिन में प्लांट का काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद हर मरीज के बैड पर सीधे ऑक्सीजन मिल सकेगी और सिलेंडरों से ऑक्सीजन सप्लाई में कमी आएगी।

दरअसल, कोविड मैनेजमेंट के तहत एनआरएचएम की मद में अस्पताल को ऑक्सीजन प्लांट की स्वीकृति मिली थी। एमडीएमएच में ट्रोमा इमर्जेंसी के पीछे ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण कार्य शुरु हुआ था। एमडीएम अधीक्षक डॉ. एमके आसेरी ने कहा कि दो-तीन दिन में प्लांट तैयार हो जाएगा। इसकी लागत करीब एक करोड़ से अधिक है और इसकी क्षमता 20 हजार किलोलीटर है।

गौरतलब है कि एमजीएच में सबसे पहले 8 हजार किलोलीटर का लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट तैयार है और वहां से मरीजों को ऑक्सीजन की सप्लाई हो रही है। इसके अलावा एम्स जोधपुर में भी 10 और 20 हजार किलोलीटर लिक्विड ऑक्सीजन की क्षमता के प्लांट लगे हैं।

खबरें और भी हैं...