पुलिस गिरफ्त में लुटेरे:भावी में एटीएम लूटने के बाद नागौर में पेट्रोल पंप लूट की योजना बना रहे थे 2 लुटेरे, गिरफ्तार

जोधपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले गिरफ्तार किए दोनों आरोपी भी पुलिस रिमांड पर

भावी में एटीएम लूट की घटना में शामिल दो आरोपियों को नागौर पुलिस ने पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाते हुए गिरफ्तार किया। इनमें से एक आरोपी को बिलाड़ा पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर लाकर गिरफ्तार किया। थानाधिकारी अचलदान ने बताया कि एटीएम लूट मामले में शामिल धर्मेन्द्रसिंह पुत्र ईश्वरसिंह निवासी जैसलान जिला नागौर को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे 5 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि एक अन्य आरोपी उम्मेदाराम पुत्र गणपतराम निवासी तिलवासनी को भी नागौर पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। उसको भी जल्द प्रोडक्शन वारंट पर लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि उक्त दोनों ही आरोपी को नागौर पुलिस ने लूट की योजना बनाते गिरफ्तार किया था। थानाधिकारी ने बताया की पूर्व में गिरफ्तार किये गये दो आरोपी बीरबलराम व राकेश भी पुलिस रिमांड पर चल रहे है। उल्लेखनीय है कि 15 लाख से ज्यादा रुपए एटीएम में थे।

पहले एटीएम, फिर पंप लूट की प्लानिंग

भावी में एटीएम लूट की घटना को अंजाम देने के बाद लूट में शामिल दो आरोपी धर्मेंद्रसिंह व उम्मेदाराम अपने अन्य साथियों के साथ एक सप्ताह बाद ही नागौर में भी पेट्रोल पंप पर डकैती करने की योजना बना रहे थे। जिसे नागौर कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों आरोपियों के पास पिस्टल भी बरामद की गई। अनुसंधान अधिकारी अंजु कुमारी ने बताया कि आरोपी धर्मेंद्रसिंह व उम्मेदाराम के पास पिस्टल बरामद की गई थी। पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाने में पांच आरोपी शामिल थे।

2 जुलाई को ये पांचों आरोपी नागौर में जोधपुर बाइपास सड़क के पास स्थित मेला मैदान के पास विश्राम स्थल व कुएं के बीच खाली जगह पर गोल घेरे में जमीन पर बैठे थे व आपस में बातचीत कर रहे थे। एक व्यक्ति ने कहा कि हम मानासर पेट्रोल पंप पर चलेंगे और पंप के ऑफिस में बैठे व्यक्ति को काबू कर रुपए लूटना है। फिर फायर करते हुए फरार हो जाएंगे। ये सभी तैयारी को अंतिम रूप दे रहे थे। तब ही पुलिस ने इनको घेर कर पकड़ लिया। जो व्यक्ति लूट के लिए निर्देश दे रहा था, उसका नाम धर्मेद्रसिंह है।

खबरें और भी हैं...