रिश्वत लेते पकड़े गए SDM को जमानत:चालीस हजार की रिश्वत लेते पकड़ा गया था, एक माह बाद मिली जमानत

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान हाईकोर्ट ने रिश्वत लेते पकड़े गए आहोर के एसडीएम मासिंगा राम जांगिड़ का जमानत दे दी। इसके साथ ही एक माह बाद यह आरएएस अधिकारी जेल से बाहर आएगा। एसडीएम जांगिड़ फिलहाल सस्पेंड है। उनको एसीबी जालोर की टीम ने एक नवम्बर को चालीस हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा था।

राजस्थान हाई कोर्ट में न्यायाधीश मनोज कुमार गर्ग की एकल पीठ ने एसडीएम को एक महीने बाद जमानत पर रिहा किया। इससे पहले स्पेशल कोर्ट, भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, पाली ने जांगिड़ की जमानत याचिका खारिज कर दी थी।

यह है मामला

लक्ष्मण सांखला नाम के पीड़ित ने म्यूटेशन भरने की एवज में एसडीएम द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत एसीबी को दी थी। शिकायत का सत्यापन किया गया। जिसके बाद पीड़ित लक्ष्मण को एसडीएम आवास पर बुलाकर एसडीएम ने रिश्वत की राशि ली। उस वक्त एसीबी टीम ने दबिश देकर रिश्वत की राशि के साथ में जांगिड़ को गिरफ्तार कर लिया। नए आरएएस अधिकारी बने जांगिड़ अपनी दूसरी पोस्टिंग में ही रिश्वत लेते पकड़ा गया। आरएएस बनने के बाद चितलवाना में प्रशिक्षु के तौर पर लगाया था। बाद में उसका तबादला आहोर एसडीएम पद पर कर दिया गया था।