भाई को लेने निकली पर लौट ना सकी:बीए सैकंड ईयर की छात्रा की संदिग्ध हालात में मौत, परिजनों ने जताया हत्या का संदेह

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक - Dainik Bhaskar
मृतक

पाल गांव में 31 अक्टूबर को ट्यूशन पढ़ने गए अपने भाई को लेने निकली बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा का शव सांगरिया-तनावड़ा रेलवे ट्रैक पर मिला। शव 31 अक्टूबर को ही मिल गया था, लेकिन घरवालों को इसका पता बुधवार को चला। समाज के लोगों का कहना है कि युवती का अपहरण कर हत्या की गई है। हत्या करने के बाद शव को उक्त क्षेत्र में डाला गया है। शरीर पर चोटों के निशान हैं। मामले में पुलिस की लापरवाही से आक्रोशित समाज के लोग कुड़ी थाने में जुटे और विरोध जताया।

इधर, पुलिस की समझाइश के बाद शुक्रवार को शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा परिजन को सौंपा गया। विसरा प्रिजर्व रखा गया है। परिजनों ने हत्या की आशंका जता दो लोगों पर आरोप लगाया है। मृतका के परिजनों का कहना है कि उस वक्त वहां पर एक कार आकर रुकी थी, जो कुछ देर बाद ही वहां से निकल गई। रेखा के इस कार में जाने का संदेह है। रेखा खुद बीए की छात्रा थी और वह इसी ट्यूशन पाॅइंट पर पढ़ाती भी थी। इसे चलाने वाला शख्स खुद उस दिन नहीं था और यश को कोई अन्य टीचर पढ़ाने आया था। ऐसा जानकारी आरंभिक तौर परिजन से पता लगी है।

पाल गांव निवासी 23 वर्षीय रेखा पुत्री अशोक भाटी 31 अक्टूबर की सुबह दस बजे ट्यूशन पढ़ने गए भाई को लाने के लिए घर से निकली, पर लौटी नहीं। घरवालों ने दो दिन तक अपने स्तर पर खोजबीन की, लेकिन पता नहीं लगा। आखिरकार उन्होंने बुधवार को बोरानाडा थाने में रेखा के गायब होने की सूचना दर्ज कराई। पुलिस ने उन्हें बताया कि एम्स अस्पताल की मोर्चरी में तीन दिन से एक युवती का शव रखा है। इस पर रेखा की छोटी बहन ने वहां शव की शिनाख्त की।

कुड़ी पुलिस का कहना है कि रेखा का शव रविवार दोपहर डेढ़ बजे सांगरिया फांटा तनावड़ा के बीच पटरी पर मिला। वहीं परिजनों का कहना है कि शव रेलवे ट्रैक के बीच मिला था। उसका एक हाथ कटा हुआ था, जो घटनास्थल से काफी दूर मिला। उसे पुलिस ढूंढ कर लाई। रेखा ने दसवीं के छात्र अपने भाई यश को अपनी स्कूटी की चाबी दी थी। फिर वह ट्यूशन वाले स्थान पर नीचे एक कमरे में किराए पर रहने वाली महिला से मिली थी। महिला 5-7 मिनट में आने का कहकर गई थी। फिर महिला लौटी तब वहां रेखा नदारद थी।

शव का मेडिकल बोर्ड से कराया पोस्टमार्टम: महिला थानाधिकारी मुक्ता पारीक मामले की जांच कर रही हैं। उनकी उपस्थिति में शुक्रवार को शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। आसपास के लोगों से भी पड़ताल की जा रही है। परिजनों ने हत्या की आशंका में दो लोगों को नामजद भी किया है।

खबरें और भी हैं...