बाड़मेर की घटना:बजरी माफिया के बीच खूनी संघर्ष, अपहरण के बाद एक हिस्ट्रीशीटर की गोली मार हत्या

जोधपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़मेर के गुड़ामालानी क्षेत्र में गोली लगने से मारा गया हिस्ट्रीशीटर रेखाराम। - Dainik Bhaskar
बाड़मेर के गुड़ामालानी क्षेत्र में गोली लगने से मारा गया हिस्ट्रीशीटर रेखाराम।
  • गुड़ामालानी क्षेत्र में कल देर रात हुआ खूनी संघर्ष

सरहदी बाड़मेर जिले के सिणधरी क्षेत्र में लूणी नदी से बजरी खनन के अवैध कारोबार में वर्चस्व को लेकर माफिया गिरोह आमने-सामने है। स्वतंत्रता दिवस पर समझौता वार्ता के लिए बैठे दो गिरोह के लोगों के बीच झड़प हो गई। इस दौरान दोनों ने एक-दूसरे पर गोलियां भी दागी। गोलीबारी के बीच एक गिरोह के लोग एक हिस्ट्रीशीटर को उठा कर भाग निकले। बाद में उसके साथ बुरी तरह से मारपीट की गई। पुलिस का पीछा होते देख वे उसे गोली मार सड़क किनारे पटक कर भाग निकले। घायल हिस्ट्रीशीटर की अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। सिणधरी क्षेत्र में बजरी माफिया सक्रिय है। लूणी नदी से बजरी निकालने के कारोबार में लंबे अरसे से दो गुटों के बीच क्षेत्र में वर्चस्व को लेकर तनातनी चल रही थी। एक माह पूर्व दोनों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इसके बाद कुछ मध्यस्थों के प्रयास से दोनों गुट वार्ता के लिए सिणधरी क्षेत्र में एक स्थान पर एकत्र हुए। जालूराम व रेखाराम बेनीवाल के गुटों के बीच समझौता वार्ता के दौरान तकरार बढ़ गई। इसके बाद जालूराम के लोगों ने रेखाराम की आंखों में मिर्च डाल दी और गोलियां चलाते हुए उसका अपहरण कर अपने साथ ले गए। जवाब में रेखाराम के लोगों ने भी गोलियां दागी। अपहरण की सूचना मिलते ही पुलिस भी सक्रिय हुई और जालूराम का पीछा करना शुरू किया। इस दौरान जालूराम के लोगों ने चलते वाहन में रेखाराम के साथ बुरी तरह से मारपीट की। बाद में मौका देख उसे गोली मार दी और सड़क किनारे पटक कर फरार हो गए। बुरी तरह से घायल रेखाराम ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। पुलिस अब दूसरे गिरोह के लोगों की तलाश में जुटी है। पुलिस को आशंका है कि इस हत्या के बाद दोनों गिरोह के बीच हिंसक वारदात बढ़ सकती है।

खबरें और भी हैं...