• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • By The End Of This Month, The Mercury Will Start To Decrease, Winter Will Fall, Snowfall Changes The Trend Of Winds And The Effect Of Winter Starts Increasing.

मौसम:इस माह के अंत तक घटने लगेगा पारा, सर्दी पड़ेगी, बर्फबारी से हवाओं का रुख बदलता है और सर्दी का असर बढ़ने लगता है।

जोधपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
स माह के अंतिम सप्ताह व नवंबर माह के पहले सप्ताह में उत्तर व पूर्व से हवाएं चलने लगेंगी - Dainik Bhaskar
स माह के अंतिम सप्ताह व नवंबर माह के पहले सप्ताह में उत्तर व पूर्व से हवाएं चलने लगेंगी

शहर में अक्टूबर माह के अंत तक सुबह व शाम की ठिठुरन बढ़ने लगेगी और न्यूनतम तापमान उतरने लगेगा। पाकिस्तान की तरफ से पश्चिमी विक्षोभ की आवाजाही के बाद जोधपुर में सर्दी असर दिखाने लगेगी। इस माह के अंतिम सप्ताह व नवंबर माह के पहले सप्ताह में उत्तर व पूर्व से हवाएं चलने लगेंगी। शहर का अधिकतम तापमान 35 व न्यूनतम तापमान 20 के आसपास है, लेकिन हवाओं का रुख जब तक उत्तर व पूर्व से नहीं होता, तापमान में ज्यादा गिरावट आने की संभावना कम रहती है।

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो इस माह के अंतिम व नवंबर माह के पहले सप्ताह में शहर की तरफ आने वाली हवाओं का रुख उत्तरी व पूर्वी होगा, जिससे शहर के तापमान में गिरावट का दाैर शुरू होगा। हवाओं के रुख बदलने के बाद ही शहर में ठंडक बढ़ेगी। शहर में गुरुवार को अलसुबह मामूली ठंडक थी, शहर का न्यूनतम तापमान 20.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। दोपहर में धूप का असर कम था। शहर का अधिकतम तापमान 34.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ।
पश्चिमी विक्षोभ का असर कैसे
पश्चिमी विक्षोभ से पश्चिम से पूर्व की ओर हवाएं चलती हैं, जिसके असर से देश के उत्तरी व पूर्वी हिस्सों में बर्फबारी होती है। इस बर्फबारी के बाद हवाओं का रुख बदलता है व सर्दी का असर बढ़ने लगता है।
इसलिए बढ़ रही है ठंडक
बर्फबारी के बाद देश में उत्तरी, पूर्वी व उत्तरी पूर्वी हवा चलती है। उत्तरी हवाएं कश्मीर व उत्तरी पूर्वी हवाएं हिमाचल की ओर से चलती है, जो वहां से ठंडी हवाएं लाती हैं और शहर के तापमान में गिरावट का दौर चलने लगता है।

खबरें और भी हैं...