IPL में सट्‌टेबाजी:3 साल पहले हुई सट्‌टेबाजी के मामले में CBI ने शेरगढ़ क्षेत्र में मारा छापा

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आईपीएल के वर्ष 2019 के संस्करण में हुई सट्‌टेबाजी की परते सीबीआई अब धीरे-धीरे खोल रही है। कथित मैच फिक्सिंग के दो अलग-अलग मामलों में पाकिस्तान से मिले इनपुट के आधार पर सीबीआई ने आज देश के कुछ स्थानों पर छापा मार 7 लोगों से पूछताछ की। इनमें जोधपुर जिले के शेहरगढ़ क्षेत्र का एक व्यक्ति भी शामिल है। उससे पूछताछ अभी तक जारी है। ऐसा माना जा रहा है कि उसके खाते में 25 लाख रुपए ट्रांसफर होने की जांच की जा रही है।

सीबीआई ने आज दिल्ली, हैदराबाद, जयपुर व जोधपुर में कुछ स्थान पर छापेमारी की। सीबीआई सूत्रों का कहना है कि इन लोगों के तार वर्ष 2019 में आईपीएल के दौरान मैच फिक्सिंग से जुड़े हैं। दिल्ली में सीबीआई ने दिलीप कुमार, हैदराबाद में वासु और सतीश को आरोपी बनाया है। जबकि राजस्थान में सज्जन सिंह, प्रभु लाल मीणा, राम अवतार और अमित कुमार शर्मा को आरोपी बनाया है। सीबीआई को इनपुट मिला कि इनमें से कई लोगों के खातों में करोड़ों रुपए का ट्रांजेक्शन हुआ है। उसी के आधार पर यह लोग सीबीआई के रडार पर आए ये लोग फर्जी बैंक खातों का प्रयोग करते थे।

जोधपुर के शेरगढ़ क्षेत्र के डेरियां गांव में आज दिल्ली से आई सीबीआई की एक टीम पहुंची। सीबीआई की टीम ने सज्जनसिंह नाम के व्यक्ति के घर की तलाशी लेने के साथ उससे पूछताछ शुरू की। बताया जा रहा है कि सज्जनसिंह के खाते में 25 लाख रुपए ट्रांसफर किए गए थे। सज्जन सिंह के साले पर विदेश में बुकी का काम करने का आरोप है। आईपीएल की इस सट्‌टेबाजी में पाकिस्तान के नामी सट्‌टेबाज भी जुड़े थे। ऐसे में सीबीआई को पाकिस्तान से कुछ इनपुट मिला। इसके आधार पर जांच शुरू की गई तो कुछ भारतीय लोगों के इस सट्‌टेबाजी में शामिल होने की बात सामने आई।