रेलकर्मियों को मिलेगी CUG सिम, रेलवे उठाएगा खर्च:हर महीने 30 जीबी डेटा मिलेगा, अनलिमिटेड कॉल फ्री, कनेक्टिविटी होगी बेहतर

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अब रेलवे के सभी कर्मचारियों को सीयूजी (क्लोज्ड यूजर ग्रुप) सिम कार्ड मिलेगा। इसके तहत एक जीबी डाटा प्रतिदिन फ्री मिलेगा। इसका सारा खर्च रेलवे खुद उठाएगा। रेल मंत्रालय ने आदेश जारी कर दिया है। माना जा रहा है कि सभी कर्मचारियों को जियो से जोड़ा जाएगा।

मंडल रेल प्रबंधक गीतिका पांडेय ने बताया कि रेल मंत्रालय ने इस नई सेवा के लिए वित्तीय अनुमति प्रदान कर दी है। रेल मंत्रालय ने सभी विभागों में सीयूजी कार्डिनेटर प्रतिनियुक्त करने का निर्देश दिया है। इसके सीयूजी कार्डिनेटर यह बताएंगे कि विभाग में कितने कर्मचारियों के पास पहले से सीयूजी सिम है और कितने को दी जानी है। उन्होंने कहा कि रेलवे की यह अच्छी पहल है। इससे रेलवे के कर्मचारियों व विभाग के बीच में कनेक्टिविटी बढ़ेगी। साथ ही सुरक्षित रेल परिचालन भी सुनिश्चित होगा।

बता दें कि अब तक क्लास-1 व क्लास-2 स्तर के अधिकारियों में रेल महाप्रबंधक, डीआरएम, सीनियर डीओएम, डीसीएम, एआरएम, स्टेशन मास्टर, चेकिंग स्टाफ, रनिंग स्टाफ, सुपरवाइजर, आवश्यक कार्यों व ब्रेक डाउन विभाग में कार्यरत कर्मचारियों व अधिकारियों को ही सीयूजी सिम की सुविधाएं दी जा रही हैं, लेकिन नए आदेश के बाद सभी विभागों में कार्यरत कर्मचारियों को सीयूजी सिम की सुविधा मिलेगी। जोधपुर में रेलकर्मियों को सीयूजी सिम उपलब्ध कराने की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है ।

सीयूजी के हैं तीन प्लान

-प्लान ए में महाप्रबंधक व डीआरएम स्तर के अधिकारी हैं जिन्हें प्रति माह 60 जीबी डाटा फ्री मिलता है। -प्लान बी में ब्रांच आफिसर, सीनियर डीओएम व सीनियर डीसीएम स्तर के अधिकारी हैं जिन्हें महीने 45 जीबी डाटा फ्री मिलता है । -प्लान सी में सुपरवाइज़र सहित अन्य रेल कर्मचारी हैं, जिन्हें अन लिमिटेड वाइस कॉल सहित एक माह में 30 जीबी डाटा फ्री मिलता है।

पहले चरण में दी थी साढ़े तीन हजार सिम
जानकारी के अनुसार योजना के पहले चरण में करीब दो वर्ष पूर्व जोधपुर रेल मंडल पर कार्यरत उन 3536 अधिकारियों और कर्मचारियों को सीयूजी सिम आवंटित की थी। जो जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं और उनकी कनेक्टिविटी रेल संचालन व संरक्षा के लिहाज से बेहद जरूरी है।