सुनामी कोरोना की:जानलेवा संक्रमण, एक दिन में 30 लोगों की थम गई सांसें, लगातार दूसरे दिन दो हजार से अधिक संक्रमित आए सामने

जोधपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।
  • जोधपुर में 1021 लोग स्वस्थ होकर लौटे घर

जोधपुर में कोरोना की सुनामी थमने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जोधपुर में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन दो हजार से अधिक 2036 संक्रमित सामने आए। आज इनसे करीब आधे 1021 को ठीक होने पर डिस्चार्ज किया गया। वहीं कोरोना जानलेवा भी साबित हो रहा है। आज 30 संक्रमित अपनी जान गंवा बैठे। जोधपुर में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बीस हजार को पार कर गई है। ऐसे में अस्पतालों का प्रबंधन पूरी तरह से गड़बड़ा गया है। अब सिर्फ बेहद गंभीर मरीजों को ही भर्ती किया जा रहा है। साथ ही कम गंभीर रोगियों को तय समय से पहले घर भेजा जा रहा है।

जोधपुर में बुधवार को रिकार्ड 44 संक्रमितों की सांसें थम गई थी। आज फिर तीस लोगों की मौत हो गई। अकेले अप्रैल महीने में 378 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि 30487 पॉजिटिव निकल चुके हैं। 10,775 मरीज डिस्चार्ज भी हुए। जबकि जनवरी से अब तक के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा देखें तो कुल 412 संक्रमित मरीजों की मौत हुई, 33,319 पॉजिटिव और 13149 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं।

मृत्यु दर को माना काफी कम

मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. एसएस राठौड़ ने कहा कि संख्या को देखे तो एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में मौत हो जाना काफी चिंताजनक है, लेकिन ओवरऑल मृत्यु दर को देखा जाए तो यह काफी कम है। मेरे पास इस समय 1100 से अधिक मरीज भर्ती है। यह कुल भर्ती मरीजों का 3.8 फीसदी है। जबकि देश में भर्ती मरीजों की मृत्यु दर 7 फीसदी चल रही है। हमारी टीम मृत्यु दर को और कम करने के लिए जी जान से जुटी है। हमें लोगों का सहयोग चाहिये। वे मरीज की स्थिति ज्यादा बिगड़ने से पहले डॉक्टर की सलाह पर इलाज शुरू कर दे। इससे मरीज की स्थिति गंभीर नहीं बन पाएगी और मृत्यु दर भी और कम हो जाएगी।