पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवजात शिशु:जन्म पर रोया नहीं था, नियो किड्स हॉस्पिटल में दिमाग को ठंडा रखने की मशीन से नवजात को मिला नया जीवन

जोधपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शादी के 20 साल बाद बिलकिस बानो के बच्चा हुआ था। वह जन्म पर रोया नहीं और उसे सांस लेने में तकलीफ थी। वह रेफर होकर नियो किड्स हॉस्पिटल आया। यहां पहुंचते ही नवजात शिशु का डॉ. अवधेश जोशी की देखरेख में थैरापैटिक हाइपो थरमिआ मशीन (दिमाग को ठंडा रखने की मशीन) से इलाज चालू किया गया।

इसमें नवजात को ऑक्सीजन की कमी से दिमाग की कोशिकाओं को हो चुके नुकसान को कम किया जाता है। इस प्रक्रिया से भविष्य में बच्चे के दिमाग के विकास की संभावनाएं बढ़ जाती हैं और आगे चलकर बच्चे को मिर्गी आने की संभावना कम रहती हैं। बच्चे के दायें फेफड़े के चारों तरफ हवा भर जाने से सांस लेने में कठिनाई हो रही थी।

साथ ही बीपी भी कम आ रहा था। तुरंत ही शिशु रोग सर्जन डॉ. डीएस राठौड़ ने छाती में नली डालकर राहत प्रदान की। नियो किड्स हॉस्पिटल में डॉ. अवधेश जोशी की देखरेख में पिछले छह माह में इस मशीन द्वारा 10 नवजात का सफल इलाज किया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें