13 साल की बेटी से हैवानियत:ओपन जेल में उम्रकैद काट रहे पिता ने किया रेप, मारपीट से परेशान अलग रह रही मां ने किया केस

जोधपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

अपनी 13 साल की नाबालिग बेटी से उसके पिता ने ही हैवानियत की है। मामला जोधपुर की ओपन जेल का है, जहां हत्या के एक मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे पिता ने अपनी बेटी के साथ रेप कर डाला। पीड़ित बेटी की मां पति की पिटाई से तंग आकर अलग रह रही है, जिसने इस मामले में केस दर्ज कराया है। बेटी पिता के साथ ही रह रही थी। पत्नी का आरोप है कि इस दौरान मेरी बेटी के साथ उसके पिता ने ही रेप किया। बेटी ने फोन पर अपनी मां को अपने साथ हुए घटनाक्रम की जानकारी दी। पुलिस अब इस मामले में सबसे पहले पीड़िता के बयान दर्ज करेगी। उसके बयान के आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जाएगा।

आरोपी के जेल में रहने के बाद भी बर्ताव में नहीं आया कोई बदलाव
आरोपी शख्स के जेल में बंद रहने के बावजूद बर्ताव में कोई बदलाव नहीं आया। मारपीट से परेशान उसकी पत्नी ओपन जेल से उसे छोड़ अपने घर जा चुकी है, जबकि बेटी पिता के साथ रह रही थी। पीड़िता की मां की तरफ से दर्ज कराई गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है।

नाबालिग का बयान दर्ज होना अभी बाकी, जो सबसे अहम
मंडोर पुलिस के अनुसार जोधपुर की ओपन जेल में रहने वाले अपने पति पर एक महिला ने 13 साल की बेटी के साथ रेप का केस दर्ज कराया है। महिला ने यह मामला सिरोही जिले के रेवदर पुलिस थाने में दर्ज कराया। मामला जोधपुर से जुड़ा होने के कारण वहां से देर रात जीरो नंबर की एफआईआर को जोधपुर भेजा गया। मंडोर पुलिस ने रेप की विभिन्न धारा्ओं के साथ गुरुवार को पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। इस मामले में अभी तक पीड़िता के बयान दर्ज नहीं हुए है। उसके बयान ही सबसे अहम माने जा रहे है। इसके आधार पर ही मामले की सत्यता की पुष्टि हो सकेगी।

जोधपुर जेल से ओपन जेल में किया गया था शिफ्ट
पुलिस के अनुसार सिरोही जिला निवासी यह व्यक्ति हत्या के एक मामले में कुछ बरस से आजीवन कारावास की सजा काट रहा है। जोधपुर जेल से उसे ओपन जेल में शिफ्ट किया गया। ओपन जेल में यह व्यक्ति अपनी पत्नी और बेटी के साथ रह रहा था। इस दौरान इस व्यक्ति अपनी पत्नी के साथ कई बार मारपीट की। इससे परेशान होकर पत्नी इसे छोड़ रेवदर स्थित अपने पीहर चली गई। वहीं, बेटी पिता के पास ही रहने लगी।