दिवाली में सावधानी बरतें:शहर में दीपोत्सव पर 2 दिनों में 3 दर्जन से ज्यादा स्थानों पर आग, फायरमैन का हाथ झुलसा

जोधपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एम्स रोड पर दुकान में लगी आग बिल्डिंग तक फैल गई। - Dainik Bhaskar
एम्स रोड पर दुकान में लगी आग बिल्डिंग तक फैल गई।

शहर में दीपोत्सव पर दो दिनों में तीन दर्जन से ज्यादा स्थानों पर आग लगी। हालांकि इनमें जनहानि नहीं हुई, लेकिन एक फायरमैन का हाथ झुलस गया। गुरुवार व शुक्रवार देर रात तक आतिशबाजी से कई स्थानों पर आग लगी। कुछेक जगह भीषण आग लगने से खासा नुकसान भी हुआ।

दमकलें दौड़ती रहीं और अलसुबह तक आग बुझाने लगी रहीं। शुक्रवार अलसुबह एक टेंट हाउस में लगी आग को बुझाते समय फायरमैन का हाथ भी झुलस गया। आग बुझाने के लिए नगर निगम के नागौरी गेट, बासनी, शास्त्रीनगर व मंडोर की दमकलों के साथ ही रीको बोरानाडा से भी दमकलें बुलाई गईं।

गुरुवार रात को ही एम्स अस्पताल रोड पर एक अपार्टमेंट में आग लगने से अफरातफरी मच गई थी। शुक्रवार अलसुबह बीजेएस क्षेत्र में जसपाल सिंह सोढ़ा के खाली प्लॉट में रखे टेंट हाउस के सामान में आग लगी, जो पास के मकान में फैल गई। नागौरी गेट से 3 दमकलों ने ढाई घंटे में आग बुझाई। पटाखे से सामान ने आग पकड़ ली। फायरमैन प्रवीणसिंह खींची का गैस सिलेंडर घर से बाहर निकालते वक्त हाथ जल गया। एम्स के पास रिद्धि-सिद्धि अपार्टमेंट के समीप एक दुकान में आग लगी, जिसने बिल्डिंग को चपेट में ले लिया। शास्त्रीनगर फायर स्टेशन से 5 दमकलों ने आग बुझाई।

शहर में कई जगहों पर झाड़ियों-कचरे में लगी आग
शहर में कई स्थानों पर झाड़ियों व कचरे में आग लगी। शास्त्रीनगर में हाजी बिल्डिंग बोम्बे मोटर, 5वीं रोड अग्रसेन पार्क, मिल्कमैन कॉलोनी 9 नंबर गली में मकान की छत पर रखे कबाड़, नेहरू पार्क में कचरे में, नेपाली मार्केट एमजीएच के पास छत पर कचरे में, सीएचबी सरस बूथ केबिन में, भीखा प्याऊ श्मशान रोड प्रतापनगर झाड़ियों में, चौपासनी मंदिर कुबेरगढ़ के पास व झालामंड कृष्णा हैंडीक्राफ्ट फैक्ट्री में आग लगी।

नागौरी गेट में विद्याशाला के अंदर झाड़ियों में, बागर चौक नागौरी गेट सीताराम पार्क, भदवासिया परिहार नगर मंदिर के पास, रेलवे स्टेशन के पीछे डम्पिंग यार्ड सहित बासनी क्षेत्र व अन्य कई जगहों पर आग लगी। दीपावली के दो दिनों में 40-50 लोग जले, एमजीएच-एमडीएमएच पहुंचे दीपावली के दो दिनों में आतिशबाजी के दौरान 40-50 लोग जल गए। वे इलाज के लिए एमजीएच व एमडीएमएच पहुंचे। 10 लोगों को भर्ती किया और बाकी को प्राथमिक इलाज देकर घर भेज दिया।

खबरें और भी हैं...