पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • For The Destitute Cow Dynasty, The Whole Village Must Be Mobilized On The Land, It Will Go To 250 Bighas Of Land, Will Arrange Grass Grown Fodder Here

चारा प्रबंध:बेसहारा गाेवंश के लिए गाेचर भूमि पर पूरा गांव जुटा, मिलकर 250 बीघा भूमि काे जाेता, यहां घास उगा चारे का इंतजाम करेंगे

रायमलवाड़ा (जोधपुर)25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लाॅकडाउन में चारे की किल्लत पड़ी थी, संकट से समाधान निकालने को ग्रामीणाें की पहल
Advertisement
Advertisement

लॉकडाउन इंसानों ही नहीं बल्कि पशुओं पर भी भारी बीता था। इस दौरान हरी घास व चारे की आवक रुकने से रायमलवाड़ा गांव तथा गोशाला की करीब 450 बेसहारा एवं छोड़ी गई गायें संकट में आ गई थीं। ग्रामीणों ने मदद के लिए जिम्मेदारों से गुहार भी लगाई, मगर हुआ कुछ भी नहीं। तब तो जैसे-तैसे कर गायों के चारे का इंतजाम किया गया। अब जब मानसून आया तो ग्रामीणों ने संकट से समाधान की राह निकालने की ठानी।

तय किया कि सारे ग्रामीण मिलकर तकरीबन 1200 बीघा की पूरी गोचर भूमि पर जुताई करेंगे। यहां पर सेवण घास उगाएंगे ताकि बेसहारा गोवंश के साथ ही अन्य पशुधन को भी चारा मिल सके। इस उद्देश्य के साथ ग्रामीणों ने अभियान चलाकर करीब 4 लाख् रु. जुटाए। पहले तो गोचर भूमि से बबूल व झाड़ियां हटाईं।

मंगलवार सुबह 7 बजते ही गांव के किसान 50 ट्रेक्टरों के साथ गोचर भूमि पर जुटे और 6 घंटे जुटकर करीब 250 बीघा भूमि को जोत दिया। यह निशुल्क कार्य किसान पूरी भूमि की जुताई तक करेंगे। इसके बाद यहां बुवाई की जाएगी। उद्देश्य यही है कि गायों व पशुधन को चारा मिले और इसके लिए किसी का मुंह ना ताकना पड़े। 

लाह की परंपरा निभाई
गांवों में किसी जरुरतमंद की मदद करने या कोई जनकल्याण के कार्य को करने के लिए सारे ग्रामीण जुटते हैं। सब मिलकर निस्वार्थ भाव से यह कार्य निशुल्क करते हैं। गांवों की इस प्राचीन परंपरा को लाह कहा जाता है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement