पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दशहरा उत्सव:पहली बार बड़े आयोजन नहीं, पुतलों को भी मास्क पहना सजगता के संदेश लिख किया रावण दहन

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वसुंधरा पार्क में रावण दहन, शस्त्र पूजन हुआ
  • सादगी से घरों में हुआ श्रीराम पूजन, बुराइयों के रावण को जलाने का लिया संकल्प

अधर्म पर धर्म की विजय का प्रतीक विजयादशमी का पर्व इस बार घरों में ही मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की पूजा-अर्चना कर मनाया गया। इस मौके पर मंडोर स्थित चैनपुरा स्टेडियम में श्री नारायण सेवा समिति की ओर से रावण का दहन समिति के सीमित सदस्यों की उपस्थिति में किया गया। वहीं विश्व हिंदू परिषद की ओर से शस्त्र पूजन कर भगवान श्रीराम की पूजा की गई। इधर दशानन दहन के दिन श्रीमाली ब्राह्मण समाज के दवे गोधा गोत्र के लोगों ने स्नानादि कर शोक जताया।
विहिप ने किया शस्त्र पूजन
विश्व हिंदू परिषद की ओर से रविवार को शहर के सभी 14 प्रखंडों में शस्त्र पूजन किया गया। विहिप के अध्यक्ष संजय अग्रवाल व पंडित राजेश दवे ने बताया कि विहिप द्वारा इस बार कोरोना के कारण विजयादशमी पर रावण दहन का आयोजन स्थगित करके सिर्फ प्रभु श्रीराम व शस्त्र पूजन करने की परंपरा का निर्वाह किया गया। विहिप प्रवक्ता अमित पाराशर व महेंद्रसिंह राजपुरोहित ने बताया कि इस बार चौहाबो 16 सेक्टर स्थित दशहरा मैदान, कुड़ी हाउसिंग बोर्ड में विहिप की ओर से रावण दहन का कार्यक्रम स्थगित रखा गया। इस दौरान विहिप द्वारा राम नाम जाप किया गया।
रावण के वंशजों ने मनाया शाेक
शहर में क्रिया झालरा रोड स्थित रावण के मंदिर में दशानन के वंशजों ने दशानन के दहन पर शोक मनाया। इस दौरान रावण के वंशज दवे गोधा परिवार के लोगों ने संध्याकालीन समय में स्नानादि कर जनेऊ धारण करके, भगवान को प्रसाद का भोग लगाया। तत्पश्चात सादा भोजन कर शोक की रस्म अदा की। रावण मंदिर के पुजारी पंडित कमलेश कुमार दवे व अजय दवे ने बताया कि जगदीश दवे, प्रेमप्रकाश आदि ने शिवभक्त रावण की पूजा करने के बाद सामूहिक स्नान कर भगवान की पूजा की।

चैनपुरा में समिति के कुछ लोगों ने पुतला दहन कर निभाई परंपरा

मंडोर चैनपुरा स्टेडियम में श्री नारायण सेवा समिति मंडोर की ओर से इस बार रावण दहन समारोह रद्द कर दिया गया। यहां पर रावण और उसके परिवार के पुतले कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनने और दो गज दूरी बनाने का संदेश देते हुए हाथ में तलवार और ढाल लिए खड़े थे। जिनका दहन समिति द्वारा कुछ लोगों की उपस्थिति में किया गया।

समिति के अध्यक्ष मनोहरसिंह सांखला ने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित नहीं किया। वहीं रावण रूपी कोरोना से बचाव के लिए मंंडोर, मगरा-पूंजला, चैनपुरा, महामंदिर आदि क्षेत्रों में पैंफ्लेट बांटे गए। साथ ही काढ़ा पाउच और मास्क वितरित किए गए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें