• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Former Chief Minister Vasundhara Raje Tasted The Rabri Of Millet In An Earthen Kulhad In The Bhil Family's Hut In The Village.

वसुंधरा राजे ने मिट्‌टी की हांडी से राबड़ी पी:गांव में महिलाओं ने हाथ देकर रोक लिया, छोटी बच्ची के कहने पर घर पहुंचीं

जोधपुरएक महीने पहले
पंडित जी की ढाणी में राबड़ी का आनंद उठातीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे।

जोधपुर से चाड़ी जाते वक्त पंडित जी की ढाणी गांव में भील परिवार के घर पूर्व मुख्यमंत्री ने बाजरे की राबड़ी पी। राजे इन दिनों दो दिन के लिए जोधपुर में हैं। वे केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की मां के निधन पर शोक व्यक्त करने आई थीं। साथ ही वे पूर्व कैबिनेट मंत्री महिपाल मदेरणा के निधन पर शोक व्यक्त करने उनके पैतृक गांव चाड़ी भी गईं।

चाड़ी जाते समय पंडित जी की ढाणी गांव में महिलाओं ने राजे की कार रुकवाई। उनका स्वागत-सत्कार स्वीकार किया। वहां मौजूद बच्ची नेनू भील के आग्रह पर उनके घर जाकर मिट्टी की हांडी में बाजरे और जीरे की राबड़ी पी।

वसुंधरा ने समस्त ग्रामीण बंधुओं और कार्यकर्ताओं का आभार जताया।
वसुंधरा ने समस्त ग्रामीण बंधुओं और कार्यकर्ताओं का आभार जताया।

राजे ने यह वाकया सोशल मीडिया पर भी शेयर किया। इस दौरान गांव के हीरा भील ने राजे को मकान का पट्टा नहीं मिल पाने की समस्या से अवगत कराया। इस संबंध में उन्होंने तुरंत जिला कलेक्टर से बात कर अति शीघ्र नियमानुसार समाधान का आग्रह किया। ग्रामीणों की अन्य समस्याएं भी सुनी।

राजे ने सोशल मीडिया पर लिखा कि ​राजस्थान का सफर भाई-बहनों का साथ हो और राबड़ी का स्वाद हो तो दिनभर की थकान पलक झपकते ही दूर होना लाजिमी है। इतना प्यार और आशीर्वाद देकर मेरी यात्रा को एक यादगार सफर बनाने के लिए समस्त ग्रामीण बंधुओं और कार्यकर्ताओं का आभार।

खबरें और भी हैं...