निर्देश:हैप्पी न्यू ईयर दिन में ही कर लें, नाइट पार्टी पर पाबंदी बाहर निकले ताे पुलिस 12 बजाएगी

जोधपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • नववर्ष सेलिब्रेशन प्लान कर रहे हैं ताे जान लीजिए- क्या कर सकते हैं और क्या नहीं

इस साल कोरोना संक्रमण के साथ ही नए साल में कदम रखना होगा। वाजिब है, पाबंदियां भी रहेंगी। सरकार ने भी कहा है कि नए साल का जश्न घर में ही मनाएं। शाम होते ही होटल, रेस्टोरेंट बंद हो जाएंगे और सड़कों पर पुलिस के नाके लग जाएंगे। ऐसे में नए साल का जश्न बाहर मनाना है तो परिवार के सदस्यों के साथ ही दिन में मनाना होगा। होटल संचालक भी उन्हीं गेस्ट की बुकिंग ले रहे हैं जो एक जनवरी को ब्रेकफास्ट के बाद चेकआउट करेंगे। हालांकि होटल एवं रेस्टोरेंट संचालकों की एसोसिएशन ने सरकार से आग्रह किया है कि बाहर से आकर ठहरे गेस्ट के लिए सेलिब्रेशन की कोविड नियमों के तहत सशर्त अनुमति दी जाए।

राजस्थान होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के मारवाड़ चैप्टर के उपाध्यक्ष पवन मेहता के मुताबिक होटल संचालकों ने सरकार से मांग की है कि इनहाउस गेस्ट के लिए शादी समारोह की तरह सीमित संख्या में आयोजन की अनुमति दी जाए। होटल इत्यादि के गेट बंद रखे जाएंगे और आउटसाइडर्स की एंट्री नहीं दी जाएगी। उम्मेद भवन 31 के लिए फुल हो चुका है। शहर की अन्य होटल भी 60 फीसदी तक बुक है, लेकिन दिक्कत ये है कि अब गेस्ट काे सेलिब्रेशन कैसे करवाएं।
होटल में फैमिली के साथ डिनर करना है तो रात वहीं रुकना होगा

  • वैसे तो राज्य सरकार ने न्यू ईयर के लिए कई तरह की पाबंदियां घोषित कर दी हैं। पटाखों पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा।
  • होटल में तभी रहकर पार्टी कर सकेंगे, जब बुकिंग अगले दिन सुबह ब्रेकफास्ट के बाद चैकआउट करेंगे।
  • 31 दिसंबर रात 8 बजे से लगाया कर्फ्यू अगले दिन सुबह 6 बजे तक रहेगा। इस दौरान कोई भी बिना वजह या सेलिब्रेशन के लिए इधऱ-उधर नहीं जा सकेगा।
  • इस दिन सभी बाजार शाम 7 बजे तक बंद करवा दिए जाएंगे। गली-मोहल्लों में बाहर सड़क पर भी किसी तरह की भीड़भाड़ नहीं होने दी जाएगी।
  • होटल, पब, बार, रेस्टोरेंट और क्लब आदि में भी न्यू ईयर सेलिब्रेशन के कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे।
  • नववर्ष की पूर्व संध्या व अगले दिन सुबह मंदिर-मस्जिद, गुरुद्वारा व गिरिजाघरों में जाने वाले श्रद्धालुओं को आने-जाने की छूट रहेगी। लेकिन, वहां 2 गज की दूरी, मास्क जरूरी नियम का पालन करना होगा।

दिन में ही लाना होगा न्यू ईयर का केक
न्यू ईयर पर शहर में केक व पेस्ट्री का बिजनेस डबल हो जाता है। इस बार शाम की पाबंदी के चलते दिन में ही केक लाकर घर रखना होगा। वैसे शहर के कुछ बेकर्स ऑनलाइन सुविधा देने की भी तैयारी कर रहे है। हालांकि इनकी डिलीवरी होटल व रेस्टोरेंट की तरह रात 10 बजे तक नहीं हो सकेगी। वजह ये इस कैटेगरी में नहीं आते। फ्रेश एंड ग्रीन के गगन टाक ने बताया कि ऑनलाइन डिलीवरी की तैयारी कर रहे हैं, शाम साढ़े छह बजे आकर पुलिस बंद करवा देती है, हम रेस्टोरेंट की श्रेणी में नहीं आते। नए साल पर रात 12 बजे तक केक बिकते थे, अब तो शाम को ही बंद करवा देंगे।

घर के लिए लेनी होगी लीकर की अनुमति
कायदे से नौ लीटर शराब घर में होने पर किसी तरह के लाइसेंस की जरूरत नहीं है। इससे ज्यादा बोतल के उपयोग व ज्यादा लोगों के जमा होने पर अनुमति लेनी होगी। कोविड नियमों की पालना सुनिश्चित करते हुए अनुमति ले सकते हैं। जिला आबकारी अधिकारी उदयभानु चारण के मुताबिक, इसके लिए शपथ पत्र देना होगा, जिला प्रशासन व पुलिस की अनुमति लानी होगी। अनुमति के लिए आवेदन ऑनलाइन करना होगा।
घरों में करें सेलिब्रेशन, बाहर निकले तो होगी कार्रवाई: पुलिस कमिश्नर

  • पुलिस आयुक्त जोस मोहन ने शहरवासियों से अपील की है कि काेविड-19 महामारी के चलते लोग अपने घरों में ही रहकर न्यू ईयर सेलिब्रेट करें। मौजूदा हालात में आमजन के जीवन की सुरक्षा जरूरी है और सरकार द्वारा किसी तरह के आयोजन की अनुमति नहीं है। हालांकि, छोटे समूह, जिनसे सोशल डिस्टेंसिंग व कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन नहीं हो, वे दिन के समय होटल या रेस्टोरेंट में जा सकेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग टूटी, तो उन सभी पर कार्रवाई होगी। कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए शहर में कई विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं।
  • शहर के सभी थाना इलाकों में थानों के अलावा 500 से ज्यादा पुलिस अधिकारी-जवान तैनात होंगे।
  • शहर के प्रमुख स्थानों सहित करीब 30 जगहों पर स्थायी-अस्थायी नाके लगाए जाएंगे।
  • पुलिस आयुक्त कार्यालय की स्पेशल टीम शहर के तकरीबन हर इलाके में पुलिस पाइंट व थानों के साथ नाइट कर्फ्यू के दौरान रेंडम चेकिंग भी करेगी।
  • पुलिस टीम के अलावा पुलिस आयुक्त व उपायुक्तों की स्पेशल टीमें भी सभी होटल्स, पब, बार, रेस्टोरेंट पर दिन-रात में रेंडम चैकिंग करेगी। भीड़ हुई, तो संचालक पर केस व कार्यक्रम में शामिल होने वालों पर भी कार्रवाई होगी।
  • रात 8 बजे के बाद किसी को भी घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। इसमें सिर्फ बीमार या आपातकालीन परिस्थितियों में ही छूट दी जाएगी।
खबरें और भी हैं...