मुख्यमंत्री बोले-मेहमानों की तरह खाना खिलाएं इंदिरा रसोई संचालक:512 रसोइयों का उद्घाटन; CM ने थाली के 10 रुपए दिए

जोधपुर16 दिन पहले

इंदिरा रसोई योजना राजस्थान में माइल-स्टोन है। थीम है- कोई भूखा न सोए। देशभर में इसकी सराहना हुई है। इंदिरा रसोई में 8 रुपए में भरपेट भोजन मिलता है। पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने 5 रुपए में अन्नपूर्णा रसोई शुरू की थी। रविवार दोपहर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वर्चुअल माध्यम से प्रदेशभर में 512 नई इंदिरा रसोइयों की शुरूआत की। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 20 अगस्त 2020 से इस योजना को लॉन्च किया था।

इस दौरान जोधपुर के पुराने नगर निगम परिसर में मुख्यमंत्री एक इंदिरा रसोई का उद्घाटन करने पहुंचे। मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी, प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, विधायक सूर्यकान्ता व्यास, कृष्णा पूनिया व संयम लोढा भी थे। दोपहर में भोजन का समय था। इसलिए मुख्यमंत्री ने इंदिरा रसोई का उद्घाटन कर काउंटर पर 10 रुपए देकर भोजन की पर्ची ले ली।

मुख्यमंत्री ने सोमवार को जोधपुर से पूरे प्रदेश को 500 से ज्यादा इंदिरा रसोइयों की सौगात दी।
मुख्यमंत्री ने सोमवार को जोधपुर से पूरे प्रदेश को 500 से ज्यादा इंदिरा रसोइयों की सौगात दी।

मुख्यमंत्री को स्लिप लेते देख डॉ. सीपी जोशी और गोविंद सिंह डोटासरा ने भी पैसे निकाले। उन्होंने मुख्यमंत्री को 100-100 रुपए दिए, जिन्हें मुख्यमंत्री ने काउंटर पर दे दिए। मुख्यमंत्री समेत सभी लोग भोजन करने पहुंचे वहां खाना खाने बैठे आम लोगों को मुख्यमंत्री ने भोजन परोसा। इसके बाद सभी लोग एक टेबल पर बैठे और लंच किया। मुख्यमंत्री समेत सभी नेताओं को थाली में लापसी, दाल, रोटी और मिक्स वेज परोसा गया।

इस दौरान सभी ने भोजन की तारीफ की और एक दूसरे से मनुहार भी करते दिखे। मुख्यमंत्री ने संचालकों से कहा कि इंदिरा रसोई में भोजन करने आने वाले हर व्यक्ति को मेहमान की तरह ही भोजन कराया जाए।

मुख्यमंत्री ने वीसी के जरिए रविवार को प्रदेशभर में 512 रसोइयों का उद्घाटन किया है। इस दौरान उन्होंने रसोई संचालकों ने वीसी के जरिए बात की। उनके अनुभव जाने। कहा कि इस काम के लिए बजट की कमी नहीं आने देंगे। इंदिरा रसोई में आने वाले लोगों को मेहमान की तरह खाना खिलाया जाए। मुख्यमंत्री ने रावतसर के रसोई कार्यकर्ताओं से बात की। इस दौरान एक संचालक धर्मपाल ने सीएम का शुक्रिया किया।

मुख्यमंत्री ने अपनी थाली के लिए 10 रुपए दिए। प्रदेशभर में ऑनलाइन 512 इंदिरा रसोइयों का उद्घाटन किया।
मुख्यमंत्री ने अपनी थाली के लिए 10 रुपए दिए। प्रदेशभर में ऑनलाइन 512 इंदिरा रसोइयों का उद्घाटन किया।

मुख्यमंत्री बोले- खाने का अनुभव अच्छा था

सीएम गहलोत ने कहा कि इंदिरा रसोई में आज हमने भी खाना खाया, खाना खाने वालों का भी अच्छा अनुभव था। खाना परोसने वाले का व्यवहार भी अच्छा हो, ऐसी कोशिश करें। सीकर में इंदिरा रसोई संचालक सुरेंद्र व बीकानेर के संचालकों से भी सीएम ने बात की। मुख्यमंत्री बोले कि बीकानेर के लोग सेवा भावी होते हैं। वहां अस्पताल में बरसों से रसोई चल रही है। यह अच्छी परम्परा है।

इंदिरा रसोई में भोजन करते मुख्यमंत्री, सीपी जोशी, डोटासरा, सूर्यकान्ता व्यास व अन्य।
इंदिरा रसोई में भोजन करते मुख्यमंत्री, सीपी जोशी, डोटासरा, सूर्यकान्ता व्यास व अन्य।

इस मौके पर गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि मुख्यमंत्री की यह योजना देशभर में सराही जा रही है। कार्यक्रम के दौरान लघु फिल्म भी दिखाई गई। जिसमें इंदिरा रसोई के प्रोसेस से लेकर खाने खिलाने की व्यवस्था की जानकारी दी गई। इस अवसर पर शहर विधायक मनीषा पंवार ने मुख्यमंत्री सरकारी योजनाओं की तारीफ की।

जोधपुर में CM बोले-बरकतुल्ला खां स्टेडियम में होंगे इंटरनेशनल मैच:नवंबर में शहरी ओलिंपिक की होगी शुरुआत, कहा-खेल हमारी प्रायोरिटी