अब विदेशी मेहमान संदेह के घेरे में:कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की आशंकाओं के बीच बढ़ाई सतर्कता, एयरपोर्ट पर बढ़ाई जांच की सुविधा

जोधपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जोधपुर एयरपोर्ट। - Dainik Bhaskar
जोधपुर एयरपोर्ट।

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की आशंकाओं के बीच अब विदेश से आने वाले मेहमान भी संदेह के घेरे में आ गए है। गत कुछ दिन में जोधपुर पहुंचे करीब 250 विदेशी मेहमानों को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। सबसे अधिक नजर ऐसे लोगों पर रखी जा रही है जो सबसे अधिक रिस्क वाले देशों से यहां पहुंचे है। एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या बढ़ने के साथ ही चिकित्साकर्मियों की टीम को बढ़ाया गया है ताकि स्क्रिनिंग में कम से कम समय लगे। जोधपुर में कोरोना का पहला मामला गत वर्ष विदेश से ही आया था।

जोधपुर के सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा ने बताया कि ओमिक्रोन की बढ़ती आशंकाओं को ध्यान में रख हमने अपनी तरफ से पूरी तैयारी कर रखी है। रेलवे स्टेशन व एयरपोर्ट पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। टीमों की संख्या को बढ़ा दिया गया है। ताकि प्रत्येक यात्री की स्क्रिनिंग हो सके। विदेशी यात्री से उनकी टेस्ट रिपोर्ट मांगी जा रही है। जिनके पास टेस्ट रिपोर्ट नहीं है उनके हाथों हाथ सैंपल लिए जा रहे है। साथ ही विदेशी मेहमानों को हिदायत दी जा रही है कि वे सेल्फ आइसोलेशन में रहे। आइसोलेशन में रहने के दौरान इनके सैंपल भी लिए जाएंगे। यदि कोई विदेशी मेहमान पॉजिटिव पाया जाता है तो उसके सैंपल की जिनोम सिक्वेसिंग करवाई जाएगी, ताकि ओमिक्रोन का पता लगाया जा सके।

विदेश से जोधपुर आया था कोरोना

जोधपुर में कोरोना की एंट्री विदेश से ही हुई थी। गत वर्ष कोरोना का पहला मामला तुर्की की यात्रा पर गए एक ही परिवार के तीन सदस्यों के रूप में सामने आया था। मुंबई से ट्रेन में वापस लौटने के दौरान इनके साथ लौट रही एक युवती भी संक्रमित हो गई थी। इसके बाद लंदन से लौटे दो दोस्त भी संक्रमित पाए गए थे। इस कारण इस बार जोधपुर में विदेशी मेहमानों को लेकर विशेष सावधानी बरती जा रही है।

विदेशी मेहमान सीधे शादियों में लेते है हिस्सा

इन दिनों जोधपुर में शादियों की सीजन चरम पर है। विदेश से आने वाले अधिकांश लोग अपने रिश्तेदारों की शादी में शामिल होने के लिए जोधपुर आ रहे है। वे जोधपुर पहुंचते ही शादी समारोह का हिस्सा बन जाते है। ऐसे में उनके संपर्क में बड़ी संख्या में लोग आते है। कोरोना के वापस सिर उठाने का खतरा सबसे अधिक इन विदेशी मेहमानों के कारण ही मंडरा रहा है।

यह है जोधपुर की स्थिति

जोधपुर में इस समय सात एक्टिव केस है। चिकित्सा विभाग इन सातों के संपर्क में आए लोगों का पता लगा उनके सैंपल ले चुका है। साथ ही और गहन पूछताछ कर पता लगाया जा रहा है कि इनके संपर्क में कितने लोग आए थे। ताकि समय रहते कोरोना को फैलने से रोका जा सके।

खबरें और भी हैं...