पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

11 कर्मचारियों को कार्यभार सौंपा:डिस्कॉम में 1.75 करोड़ के घोटाले की जांच पूरी हुई नहीं, लूणी एईएन ने हेल्पर को दे दिए चार्ज

जोधपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जोधपुर डिस्कॉम के लूणी, सालावास में एसएसए-3 मोहम्मद शरीफ, हेल्पर विक्रमसिंह नरूका, अजय मीणा व रिटायर मीटर रीडर ओमप्रकाश द्वारा 1.45 करोड़ रुपए से अधिक घोटाले की जांच अभी पूरी भी नहीं हुई है कि अब लूणी सब डिवीजन में एक बार फिर हेल्पर को मलाईदार जगहों पर बिठा दिया गया है।

करीब आठ दिन पूर्व एईएन लूणी महेश कुमार नागर ने एक आदेश जारी कर 11 कर्मचारियों को कार्यभार सौंपा। इनमें से सात हेल्पर को वापस उन्हीं पदों पर डेपुटेशन पर लगाया है, जहां पर पूर्व में घपला करने वाले एक सेवानिवृत्त सहित ये चार कर्मचारी थे। इनमें तीन को सस्पेंड कर दिया गया है।

  • हमारे पास मैनपाॅवर नहीं है। मजबूरी में हेल्पर लगाए। ये सही है कि पहले इन्हीं पदों पर घपला हुआ है, लेकिन अब लिपिकीय कमी के कारण ऐसा करना पड़ा। - महेश कुमार नागर, सहायक अभियंता लूणी, जोधपुर डिस्कॉम

किसको क्या चार्ज दिया
हेल्पर रमेश कुमार वैष्णव को रोकड़ शाखा, हेल्पर मोहम्मद अजहरूद्दीन को लेजर 16, 18, 23 व वीसीआर, हेल्पर रमाकांत गौड़ को लेजर 15, 17 व 21 का, हेल्पर यशपाल चौधरी को उपभोक्ता शाखा, हेल्पर संजय धाकड़ को आवक-जावक रजिस्टर, संपर्क व रोकड़ संग्रहण कैंप का, हेल्पर लवजीत पंवार को रोकड़ शाखा का रोकड़ जमा व रोकड़ संग्रहण कैंप का, हेल्पर प्रदीप सोलंकी को रोकड़ शाखा का रोकड़ जमा व रोकड़ संग्रहण कैंप का, सब स्टेशन अटेंडर-3 राजस्व शाखा के अधीन व रोकड़ संग्रहण कैंप का चार्ज दिया है। कॉमर्शियल असिस्टेंट ज्योति को संस्थापन शाखा, लीगल व आरटीआई, सीए-2 महेश कुमार बैरवा को सहायक राजस्व अधिकारी एसआईपी व एचटी का, सीए-2 संतोष गौड़ को एमसीओ, आरसीओ, पीडीसी व रीडिंग पोस्टिंग का कार्यभार सौंपा है। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...