जोधपुर में उपद्रवियों ने घरों में तेजाब की बोतलें फेंकी:युवक की पीठ में चाकू मारा, तलवारें लहराकर उत्पात मचाया

जोधपुर5 महीने पहले

जोधपुर में दो गुटों के बीच हुए विवाद के 12 घंटे बाद भी पुलिस उपद्रवियों को रोकने में नाकाम रही। शहर को जलाने में उपद्रवी एक बार फिर सफल रहे। प्लानिंग के साथ आए उपद्रवियों ने जमकर उत्पात मचाया। तेजाब से भरी बोतलें घरों पर फेंकी। दहशत फैलाने के लिए तलवारें लहराई। कबूतरों का चौक में दीपक परिहार नाम के युवक की पीठ पर चाकू से हमला कर दिया। युवक को महात्मा गांधी हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां ऑपरेशन कर चाकू निकाला गया।

शहर के 14 से ज्यादा मोहल्लों में उपद्रवियों ने मंगलवार को जमकर उत्पात मचाया और पत्थरबाजी की। जालोरी गेट से शुरू हुआ विवाद शहर की तंग गलियों तक पहुंच गया। यहां पहले जालप मोहल्ला में विधायक के घर के बाहर दो बाइक को आग लगा दी गई।

दंगाई यहां से सोनारों का बास मोहल्ले में पहुंचे। बाइक पर धार्मिक नारों के साथ रैली निकाली। इस बीच सोनारों का मोहल्ला में तलवार लहराते हुए उपद्रवी पहुंचे। यहां के लोगों ने बताया कि उपद्रवियों ने तेजाब से भरी बोतलें उनके घरों पर फेंकी। इस दौरान नकाबपोश युवकों ने हमला बोल दिया और पत्थरबाजी की। महिलाओं ने बताया कि उनके साथ छेड़खानी भी की गई। इसके बाद मौके पर भीड़ जमा हो गई और स्थानीय लोग भी डंडे लेकर सड़कों पर उतरे।

उपद्रवियों ने कबूतरों का चौक में खड़े युवक दीपक की पीठ पर चाकू से हमला कर दिया।
उपद्रवियों ने कबूतरों का चौक में खड़े युवक दीपक की पीठ पर चाकू से हमला कर दिया।

प्लानिंग के साथ आए उपद्रवी
शहर में जालोरी गेट, शनिचरजी का थान, कबूतरों का चौक, भीमजी की हथाई, घोड़ों का चौक, सोनारों का बास सहित कई मोहल्लों में उपद्रवियों की भीड़ गई। प्लानिंग के साथ आए उपद्रवियों के पास तलवारें, तेजाब की बोतलें, पत्थर, लाठियां थीं। हर मोहल्ले में उपद्रवियों के अलग-अलग ग्रुप उत्पात मचाने गए थे। उपद्रवियों की भीड़ ने यहां दूसरे पक्ष के लोगों के घरों को निशाना बनाया और घरों के बाहर खड़ी गाड़ियों में जमकर तोड़फोड़ की। करीब 40 से ज्यादा वाहनों में तोड़फोड़ की और एक बाइक में आग भी लगा दी। इस दौरान दूसरे पक्ष के लोगों ने विरोध किया तो उनके साथ मारपीट की।

उपद्रवियों ने शहर में जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान पुलिस की गाड़ी में भी तोड़फोड़ की।
उपद्रवियों ने शहर में जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान पुलिस की गाड़ी में भी तोड़फोड़ की।

विवाद के बाद भी पुलिस ने भीड़ को इकठ्‌ठा होने से नहीं रोका
जालोरी गेट चौराहा पर दो पक्षों के बीच रविवार देर रात को झंडा फहराने की बात को लेकर विवाद हो गया था। इसके बाद पुलिस देर रात तक उपद्रवियों को शांत कराने में लगी रही, लेकिन सोमवार सुबह जालोरी गेट चौराहा के पास स्थित मस्जिद के पास एक पक्ष के लोगों की भीड़ जमा हो गई। इसके बाद भीड़ जालोरी गेट से शनिचरजी का थान होते हुए आस-पास के घरों पर पथराव किया। वाहनों में तोड़फोड़ की और करीब 10 से ज्यादा एटीएम बूथ तोड़ दिए।

आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हुए
उपद्रवियों को रोकने के लिए तैनात पुलिस अधिकारी व जवान भी घायल हो गए। उपद्रवियों ने पुलिस के कई वाहनों में तोड़फोड़ की। उपद्रवियों के रास्ते में आ रही पुलिस को हटाने के लिए उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसमें DCP भुवन भूषण यादव, SHO अमित सिहाग सहित करीब आधा दर्जन से जवान घायल हो गए। कुछ मीडियाकर्मी भी पथराव में घायल हुए।

भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। जालोरी गेट चौराहे पर बिखरीं चप्पलें। मंगलवार को यहां जमकर उपद्रव हुआ है।
भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। जालोरी गेट चौराहे पर बिखरीं चप्पलें। मंगलवार को यहां जमकर उपद्रव हुआ है।

50 लोगों को हिरासत में लिया
घटनाक्रम के बाद मंगलवार शाम प्रभारी मंत्री सुभाष गर्ग, ACS होम अभय कुमार और ADG लॉ एंड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया जोधपुर पहुंचे। गर्ग ने बताया कि अभी तक इस मामले में 50 लोगों को हिरासत में लिया है। उन्होंने बताया कि सीएम को इस पूरे घटनाक्रम की रिपोर्ट दी जाएगी।

ये अहम खबरें भी पढ़ें-