पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मरु महोत्सव:पर्यटकों से गुलजार हुई स्वर्ण नगरी; लक्षिता सोनी मिस मूमल और कुष्ण कुमार पारीक मिस्टर डेजर्ट चुने गए

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मरु महोत्सव में गुरुवार को मिस मूमल चुनी गई लक्षिता सोनी। - Dainik Bhaskar
मरु महोत्सव में गुरुवार को मिस मूमल चुनी गई लक्षिता सोनी।

थार का रेगिस्तान इन दिनों पर्यटकों से गुलजार है। मरु महोत्सव का रंग जम चुका है। महोत्सव के दूसरे दिन आज का मुख्य आकर्षण मिस मूमल और मिस्टर डेजर्ट प्रतियोगिता रही। स्थानीय परिधान में सजधज कर पहुंचे युवक युवतियों में खिताब पर कब्जा जमाने की होड़ मची थी। इन सभी के बीच लक्षिता सोनी मिस मूमल और कुष्ण कुमार पारीक मिस्टर डेजर्ट चुने गए।

मरु महोत्सव के दूसरे दिन आज सुबह सोनार फोर्ट से शोभायात्रा के साथ आज के कार्यक्रमों का आगाज हुआ। शोभायात्रा का मुख्य आकर्षण ऊंटों पर सवार लोग रहे। रंगबिरंगी पोशाक और सजे हुए ऊंटों ने सभी को अपनी तरफ आकर्षित किया। शोभा यात्रा गोपा चौक होते हुए शहीद पूनमसिंह स्टेडियम पहुंची। स्टेडियम में आज बड़ी संख्या में मौजूद लोगों की उपस्थिति में साफा बांध, मूमल महेन्द्रा, मूंछ प्रतियोगिता, मिस मूमल व मिस्टर डेजर्ट प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। सभी को मिस मूमल व मिस्टर डेजर्ट प्रतियोगिता का इंतजार था।

मरु महोत्सव में मिस्टर डेजर्ट चुने गए कृष्ण कुमार पारीक।
मरु महोत्सव में मिस्टर डेजर्ट चुने गए कृष्ण कुमार पारीक।

रेगिस्तान की परम्परागत पोशाक के साथ शानदार मूंछ और दाढ़ी में मंच पर पहुंचे युवाओं ने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया। थोड़ी देर में कृष्ण कुमार पारीक के मिस्टर डेजर्ट चुने जाने की घोषणा का सभी ने कर्तल ध्वनि के साथ स्वागत किया। इसके बाद मिस मूमल प्रतियोगिता में जैसलमेर में ब्यूटी पार्लर संचालित करने वाली लक्षिता सोनी ने बाजी मारी।

आज शाम 7 से रात्रि 10 बजे तक गड़ीसर झील में विशेष रूप से बनाए गए तैरते मंच पर मशहूर गायक सूर्यवीर द्वारा रॉकिंग म्यूजिकल नाइट विथ सूर्यवीर प्रस्तुतियां देंगे। वहीं कल शाम शहर के आराध्य भगवान लक्ष्मीनाथ की आरती से चार दिवसीय मरु महोत्सव का आगाज हुआ। बुधवार शाम सोनार दुर्ग स्थित प्राचीनतम भगवान लक्ष्मीनाथ की आरती से इस महोत्सव की विधिवत शुरुआत हुई। इसके बाद सूरज के ढलते ही गड़ीसर तालाब पर 21 हजार दीपक जगमगाने लगे। लगा चार माह बाद ही यहां फिर दिवाली आ गई। आरती के बाद हरी झंडी दिखाकर हेरिटेज वॉक को रवाना किया गया। वॉक में लोक कलाकारों ने नृत्य और गायन की धूम मचाई। हेरिटेज वॉक मुख्य मार्गों से होकर गड़ीसर झील क्षेत्र पहुंची, जहां जमा सैकड़ों लोगों ने वॉक का स्वागत किया।

कैलाश खेर ने समा बांधा

शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में स्टार नाइट में कैलाश खेर ने समा बांध दिया। बुधवार को हजारों की संख्या में लोग पहुंचे और कैलाश खेर की गायकी का लुत्फ उठाया। कैलाश ने कहा कि अपनों के बीच सम्मान पाना बड़ी बात होती है और जैसलमेर आने के बाद मुझे सब कुछ अपनापन लग रहा है। खेर ने अपनी एलबम कैलासा के कई गीतों की प्रस्तुतियां दी। तेरे बिन नहीं लगता ढोलना, जोबन झलके, तेरी दीवानी, जय जयकारा, पंजाबियां दा ढ़ोल बजदा सहित कई गानों की प्रस्तुति दी।

सुबह तक रम्मत का मंचन

कैलाश खेर के गायन पश्चात पांरपरिक रम्मत का आयोजन किया गया। इसमें स्थानीय लोक कलाकारों ने पुरानी रम्मत की परंपरा को जीवंत करते हुए अपने पात्रों का बखूबी से अभिनय किया। रम्मत में मुख्य पात्रों के साथ टेरियों ने भी पूरी शिद्दत के साथ रम्मत का लुत्फ उठाया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

और पढ़ें