• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Liquor Being Sold Even After 9 O'clock In The Night, When Informed, The Police And Excise Arrived, But The Employee Closed The Shutter From Inside, Right Here

हे सरकार! अब क्या करोगे?:रात 9 बजे बाद भी बिक रही शराब, सूचना दी तो पुलिस और आबकारी पहुंचे, लेकिन कर्मचारी ने अंदर से बंद कर लिया शटर, यहीं

जोधपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ठेके के बाहर बेबस खड़ी पुलिस व आबकारी टीम। - Dainik Bhaskar
ठेके के बाहर बेबस खड़ी पुलिस व आबकारी टीम।

शहर में ठेकों पर रात 8 बजे के बाद शराब बिक्री का दौर धड़ल्ले से जारी है। आबकारी विभाग और पुलिस टीम इन पर लगाम नहीं लगा पा रही है। मंगलवार को भास्कर टीम के रात में शराब ठेकों के रियलिटी चैक करने के दौरान यह बात साबित भी हो गई।

रात 9 बजे बाद बासनी और सरस्वती नगर क्षेत्र में शराब ठेकों पर भास्कर टीम पहुंची तब वहां शटर बंद कर नीचे व साइड से शराब बिकती मिली। टीम के बताने पर सरस्वती नगर क्षेत्र में पुलिस और आबकारी विभाग की टीम पहुंची, लेकिन ठोस कार्रवाई नहीं कर पाई। यहां एक बंद होटल की बिल्डिंग के नीचे दुकान में ठेका है और बिल्डिंग के गेट से ही रात में शराब बिक्री की जाती है। पुलिस के आने की भनक पर यहां शराब बेच रहे कर्मचारी बिल्डिंग के गेट को अंदर से बंद कर बैठ गए। इन्हें ना तो पुलिस बाहर निकाल पाई और ना ही आबकारी टीम। हालांकि वहां बाहर मिले दो सेल्समैन को पुलिस टीम पकड़कर थाने ले गई, जिन्हें बाद में सामने की होटल के कर्मचारी मान छोड़ भी दिया। भगत की कोठी थानाधिकारी प्रदीप शर्मा का कहना था कि उनके पास ठेका खोलने या ताला तोड़ने का पाॅवर ही नहीं है। यह काम आबकारी विभाग का है। वहीं आबकारी निरीक्षक सोमराज विश्नोई ने बिल्डिंग को सील करने का पॉवर नहीं होने का कह इतिश्री कर ली।

ऐसे में सवाल खड़ा हो रहा है कि अगर आबकारी और पुलिस टीम के पास ही ठेकों पर नियम विरुद्ध शराब बिक्री के खिलाफ ठोस कार्रवाई करने का पॉवर नहीं है तो रात में शराब बिक्री पर रोक लगेगी कैसे? जबकि इस पर मंत्री परसादीलाल मीणा और उच्चाधिकारी तक नाराजगी जता इसे रोकने के आदेश दे चुके हैं। दो दिन में 5 जगहों पर ओवरटाइम के मुकदमे रात में शराब बिक्री को लेकर भास्कर में लगातार खबरें प्रकाशित होने और मंत्री व उच्चाधिकारियों के नाराजगी जताने पर विभाग ने सभी निरीक्षकों को निर्देश देकर सड़कों पर उतारा है, लेकिन इनके ठेकों से गुजरने के बाद वहां शराब बिक्री फिर से शुरू हो जाती है।

हालांकि दो दिनों में रात आठ बजे बाद ठेके खुले रहने पर जिला आबकारी अधिकारी के निर्देश पर 5 जगहों पर ओवरटाइम के मुकदमे भी दर्ज किए गए हैं। इस पर कार्रवाई के लिए उन्हें उदयपुर मुख्यालय भेजा जाएगा। शिकायत पर निरीक्षकों को भेजते हैं जिला आबकारी अधिकारी अंजुम ताहीर सम्मा ने कहा कि रात 8 बजे बाद अधिकांश ठेके बंद कराते हैं। शिकायत पर निरीक्षकों को भेजा जाता है। सभी निरीक्षकों व ईपीएफ टीम को गश्त के भी निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...