• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • MBBS Done In China For Three Years, Degree Had To Be Done From Ukraine For The Remaining Two Years, Studies Remained Incomplete

एमबीबीएस करवाने के नाम पर 15 लाख की ठगी:तीन साल चाइना में करवाई एमबीबीएस, शेष दो साल यूक्रेन से करवानी थी डिग्री, अधूरी रह गई पढ़ाई

जोधपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जोधपुर शहर के प्रतापनगर पुलिस थाना क्षेत्र में रहने वाले एक युवक और उसके दोस्त को एमबीबीएस की डिग्री दिलाने के नाम पर हरियाणा के एक व्यक्ति ने 15-16 लाख की ठगी कर डाली। तीन साल तक चीन में डिग्री करवाई। कोविड के चलते मामला ठंडा पड़ने पर यूक्रेन से डिग्री करवाने का प्रलोभन दिया गया। लेकिन डिग्री नहीं मिल पाई। अब पीड़ित के पिता ने इस बारे में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दी है।

थानाधिकारी देवीचंद ढाका ने बताया कि घटना में प्रतापनगर के दाऊ की ढाणी गेट संख्या तीन के सामने रहने वाले धर्मेंद्र सोनी पुत्र सत्यप्रकाश सोनी की तरफ से मामला दर्ज करवाया गया है। इसमें बताया कि हरियाणा रोहतक निवासी सतीश शर्मा नाम के एक शख्स से संपर्क हुआ था। परिवादी ने बताया कि उसके पुत्र को एमबीबीएस की डिग्री कराने की बात को लेकर सतीश शर्मा से बात की गई। तब उसने डिग्री कराने के लिए हामी भरी। इसके लिए उसने 15-16 लाख का खर्चा होना बताया था। तब परिवादी के पुत्र और उसके दोस्त दोनों को एमबीबीएस की डिग्री दिलाने के नाम पर रुपए लिए गए।

इनकों चीन से डिग्री दिलाने की बात की। दोनों का चीन में एडमिशन भी हो गया। तीन साल तक कोर्स भी चला, लेकिन बीच में कोरोना फैलने के चलते कोर्स अधूरा रह गया। स्थानीय स्तर पर पता लगा कि चीन की डिग्री मान्य नहीं है। इस पर आरोपी सतीश शर्मा ने अन्य देश से डिग्री दिलाने को कहा। उसने यूक्रेन से डिग्री दिलाने की बात की। दो साल का शेष कोर्स कराने को कहा था। यहां पर भी वह जालसाजी करता रहा और रूपए ऐंठता रहा। थानाधिकारी ढाका ने बताया कि परिवादी ने उसके पुत्र और उसके दोस्त को एमबीबीएस की डिग्री के नाम पर 15-16 लाख रुपए ऐंठने का आरोप लगाते हुए अब केस दर्ज कराया है। घटना में अग्रिम अनुसंधान किया जा रहा है।