एक महीने से मां गायब, बच्चे बोले: ढूंढ कर लाओ:टेलर के यहां जाने का कहकर निकली थी महिला, अब तक नहीं लौटी

जोधपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डिप्टी से मिलने महिला के तीनों बच्चे भी पहुंचे। उन्होंने ने भी पुलिस अधिकारियों से मां को तलाश करने की गुहार लगाई। - Dainik Bhaskar
डिप्टी से मिलने महिला के तीनों बच्चे भी पहुंचे। उन्होंने ने भी पुलिस अधिकारियों से मां को तलाश करने की गुहार लगाई।

एक महीने से लापता महिला को ढूंढने के लिए परिजन मंगलवार को पुलिस अधिकारियोंं के पास पहुंचे। परिजनों के साथ तीन मासूम बच्चे भी थे। उन्होंने भी पुलिस अधिकारियों को बताया कि 1 महीने से उनकी मां घर से नहीं लौटी है। सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली बेटी माया ने बताया कि पढ़ाई के साथ घर का काम और दो भाइयों को भी संभालना पड़ा है।

परिजनों ने बताया कि उनकी बहू 11 नवंबर से लापता है। पति बाबूलाल ने भी गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। लेकिन अभी तक सुराग नहीं मिला है। परिजन बच्चों के साथ डीसीपी पश्चिम ऑफिस पहुंचे और मां को ढूंढने की गुहार पुलिस से लगाई। बाबूलाल ने बताया कि उसका परिवार सालावास रहता है। उसकी पत्नी शोभा 11 नवम्बर को घर से टेलर के यहां से कपड़े लाने के लिए निकली थी। उस दिन वापस नहीं लौटी। उसने सालावास थाने में मामला दर्ज करवाया। लेकिन अब तक शोभा का पता नहीं चला। उसने बताया कि शोभा के साथ उसका चार साल का लड़का भी है। बाबूलाल की मां ओमीदेवी का कहना है कि बहु को उसके पीहर ढूंढा वहां भी नहीं मिली। उसने कहा कि उसकी उम्र हो चली है पोते-पोती को कौन संभालेगा। माया के अलावा 9 साल और एक 7 साल का लड़का है। जिन्हें उनकी बहन संभाल रही है। वहीं समाज के लोग भी परिवार की मदद में आगे आए है। महाबली सेना के चीफ विष्णु सरगरा ने डिप्टी से विस्तृत चर्चा कर गुमशुदगी की रिपोर्ट आईपीसी की धारा में दर्ज कर निष्पक्ष जांच की मांग की।